लोकसभा चुनाव से पहले अखिलेश ने दिए BSP से गठबंधन के संकेत, कहा- बुआजी से अब नहीं है झगड़ा

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आगामी लोकसभा चुनाव में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) से गठबंधन के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा है कि बसपा सुप्रीमो मायावती (बुआजी) से कोई झगड़ा नहीं है। समाज के हर तबके को प्रभावित करने वाली ‘आर्थिक अराजकता’ की वजह से अगले लोकसभा चुनाव से पहले ही भाजपा के खिलाफ तीसरा मोर्चा अपने वजूद में आ सकता है।  लोकसभा चुनाव से पहले अखिलेश ने दिए BSP से गठबंधन के संकेत, कहा- बुआजी से अब नहीं है झगड़ा

Exams: यूपी बोर्ड की परीक्षाएं हुई शुरु, सीएम से लेकर डिप्टी सीएम कर सकते हैं दौरा!

अखिलेश यादव ने यहां सोमवार को ‘ताज लैंड एंड होटल’ में मुंबई हिंदी पत्रकार संघ के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत में कहा कि देश में एक तरह की ‘आर्थिक अराजकता’ फैली है। देश में जारी इस उथल पुथल से समाज का हर तबका परेशानी झेल रहा है। 

देश की जो खराब आर्थिक स्थिति है, उन्हीं मसलों को लेकर तीसरा मोर्चा अस्तित्व में आएगा। उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि महाराष्ट्र में भी कांग्रेस के साथ हमारा गठबंधन हो। हर विपक्षी दल और नेता के साथ मेरे अच्छे संपर्क हैं। मैंने बुआजी (मायावती) से बात नहीं की है लेकिन उनसे भी मेरे अच्छे संबंध हैं।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश चुनाव में किसान कर्जमाफी के वादे किए गए जिससे पूरे देश में कर्जमाफी की मांग शुरू हो गई। हमने पहले ही कहा था कि नोटबंदी से देश में कालाधन और भ्रष्टाचार खत्म नहीं हो सकता है। बैंकों की हालत नहीं सुधरी है। आखिरकार, केंद्र सरकार बैंकों को आर्थिक सपोर्ट क्यों कर रही है। उन्होंने बताया कि जल्द ही वह परिवर्तन यात्रा शुरू करेंगे। 

नफरत फैलाने के लिए हुई कासगंज में हिंसा

अखिलेश यादव ने इशारों – इशारों में संघ परिवार पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कासगंज में नफरत फैलाने के लिए हिंसा हुई। एक पक्ष के हाथ में तिरंगा और दूसरे पक्ष के हाथ में भगवा झंडा था। इससे समझा जा सकता है कासगंज हिंसा में किसका हाथ था।

एनकाउंटरों से बढ़ रही अव्यवस्था
यूपी की योगी सरकार में अपराधियों पर नकेल कसने के लिए किए जा रहे एनकाउंटरों पर अखिलेश यादव ने तंज कसा। उन्होंने कहा कि एनकाउंटरों से सूबे की कानून व्यवस्था ज्यादा खराब हो रही है। जितने ज्यादा एनकाउंटर हो रहे हैं उतने ही अपराध भी बढ़ रहे हैं। केवल एनकाउंटरों से राज्य में कानून व्यवस्था ठीक नहीं होगी।

 
 

You May Also Like

English News