अगर एक्ट्रेस नहीं होती तो पॉलिटिक्स में होती, लोग इन्हें कहते हैं हेमा मालिनी

पंजाब की चर्चित एक्ट्रेस सोनिया मान का कहना है कि आमतौर पर लोग उन्हें देखकर धोखा खा जाते हैं। लुक्स और मेकअप के आधार पर पहचान नहीं पाते। किसी-किसी एक्टर से तुलना करने लग जाते हैं। पंजाबी के डायरेक्टर-प्रोड्यूसर अमितोज मान तो उन्हें पंजाबी की हेमा मालिनी कहते हैं। चंडीगढ़ में एक मुलाकात में उन्होंने अपनी एक्टिंग के अनुभव साझा किए…

हेमा मालिनी

– सोनिया मान कहती हैं बॉलीवुड के कई लोग मुझे साइड लुक्स के आधार पर सोनाली बेंद्रे बताते हैं।
– वहीं, साउथ की तेलुगू इंडस्ट्री के लोग मुझे श्रीदेवी कहते हैं। हालांकि, जब लोग ऐसा कहते हैं तो मुझे अच्छा लगता है।– सोनिया पंजाबी के साथ-साथ तेलुगू फिल्में भी नजर आ चुकीं हैं। हाल ही में उन्होंने पंजाब की एक संस्था के लिए फ्री एड कैंपेन शूट किया।
– उन्होंने बताया, अगर मैं एक्टर नहीं होती तो पॉलिटिक्स का चेहरा बनती।
– हमेशा से बेनजीर भुट्टो, प्रियंका गांधी ने मुझे प्रेरित किया है। इनकी जिंदगी पर अगर कोई बायोपिक फिल्म बनती है तो काफी प्रेरणादायक रहेगी।
– ऐसी ही किसी पॉलिटिकल महिला पर फिल्म बनती है तो उसका हिस्सा जरूर बनना चाहती हूं।

– इस सवाल के जबाव में सोनिया ने कहा कि अगर साउथ सिनेमा की बात करूं तो वहां चीजें टेक्निकली काफी मजबूत होती हैं। सब काम को लेकर प्रोफेशनल हैं। वहीं पंजाबी सिनेमा में काम करते हुए ज्यादा दिक्कत नहीं हुई। यहां काम करते हुए काफी कंफर्टेबल रही। समाज सेवा के लिए तैयार रहती हूं

– सोनिया बताती हैं, अब सब कुछ कॉमर्शियल हो गया है। सभी अपना फायदा ढूंढ़ते हैं। वहीं, सोसायटी में ऐसे लोग भी हैं जो फायदे की परवाह किए बगैर सोसायटी के लिए कुछ करने की कोशिश में जुटे हैं। अगर मुझे इसी तरह किसी समाजसेवी प्रोजेक्ट करने वाला कोई मिलता है तो उसकी मदद करने के लिए हमेशा तैयार रहती हूं।

You May Also Like

English News