अब्बास नकवी ने दिया बयान: बोले- वंदे मातरम नहीं गाने वाला देशद्रोही नहीं, यह पसंद की बात होती है

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शनिवार को एक बयान में कहा कि वंदे मातरम गाना पसंद की बात है। जो लोग इसे नहीं गाते हैं या गाने से इनकार करते हैं तो उन्हें देशद्रोही नहीं करार दिया जा सकता है।अब्बास नकवी दिया बयान: बोले- वंदे मातरम नहीं गाने वाला देशद्रोही नहीं, यह पसंद की बात होती है

संसदीय मामलों और अल्पसंख्यक मामलों के केंद्रीय राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) नकवी ने कहा, ‘वंदे मातरम गाना या नहीं गाना पूरी तरह स पसंद का मामला है, जिन्हें अच्छा लगता है गाएं, जिन्हें अच्छा नहीं लगता न गाएं। इसके नहीं गाने से कोई देशद्रोही नहीं हो जाता है।’

वहीं नकवी ने यह भी कहा कि अगर कोई जानबूझकर राष्ट्रगीत का विरोध करता है तो वह गलत है और यह बात देश हित में नहीं है।

और पढ़ें: डिप्रेशन के शिकार हैं कपिल शर्मा, जानिए उनकी तबीयत के बारे में क्या खुलाशा किया ऑनस्क्रीन ‘पत्नी’ सुमोना चक्रवर्ती

बता दें कि नकवी का यह बयान शुक्रवार को महाराष्ट्र विधानसभा में राष्ट्रगीत पर हुए बवाल के बाद सामने आया है। इस दौरान बीजेपी विधायकों ने समाजवादी पार्टी के विधायक अबु आजमी का जोरदार विरोध किया था।

और पढ़ें: ‘मन की बात’ में PM ने कहा- एक महीने में दिखने लगे हैं GST के फायदे…

दरअसल विधानसभा में राज्य के सभी स्कूलों और कॉलेजों में वंदे मातरम के गायन को आवश्यक बनाने की मांग की जा रही थी। इस मांग के बाद अबु आजमी ने इसका जमकर विरोध किया था। आजम ने कहा था कि अगर उन्हें देश से बाहर भी फेंक दिया जाता है तो भी वह वंदे मातरम नहीं गाएंगे।

loading...

You May Also Like

English News