वर्ल्ड कप 2015 में भी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों पर बॉल टेंपरिंग का शक…

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर स्टीव स्मिथ, डेविड वॉर्नर और केमरन बेनक्रॉफ्ट पर बॉल टेपरिंग के कारण प्रतिबंध लग चुका है, जिसके बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की छवि पर बहुत बड़ा दाग लग गया है.वर्ल्ड कप 2015 में भी ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों पर बॉल टेंपरिंग का शक...इसी को लेकर अब पूर्व कीवी खिलाड़ी ग्रांट इलियॉट ने कंगारू क्रिकेटरों पर वर्ल्ड कप 2015 फाइनल के दौरान भी बॉल टेंपरिंग का शक जताया है. कीवी रेडियो शो ‘हॉराकी ब्रेकफास्ट’ पर इलियॉट ने बताया कि, वर्ल्ड कप 2015 फाइनल में हम अच्छी स्थिति में थे और हमारा स्कोर तीन विकेट पर 150 रन था.

ग्रांट इलियॉट कहा, ‘मैंने कई ऐसे मैच खेले हैं, जिनमें गेंद अच्छा-खासा स्विंग करती है. हकीकत में अगर आप मिशेल स्टार्क जैसे खिलाड़ी देखें तो वह देर से अच्छी गेंदबाजी नहीं करता. हो सकता है कि तब वह खुद पर ध्यान दे रहे हों और गेंद के साथ छेड़छाड़ करना चाह रहे हों.’

बता दें कि इस मैच में एक समय न्यूजीलैंड का स्कोर 150 रन पर 3 विकेट था, लेकिन इसके बाद कीवी टीम के बाकी सात विकेट महज 33 रनों के अंदर गिर गए और पूरी टीम 183 रन पर ऑल आउट हो गई. ऐसे में उन पर बॉल टेंपरिंग का संदेह जताया जा रहा है.

उन्होंने कहा, ‘अब आंकड़ें ठीक रहेंगे, सैंडपेपर गेट से पहले किसी का औसत कुछ है और उसके ठीक बाद कुछ और ऐसे में कुछ गेंदबाज जरूर होंगे जिन पर सवाल उठेंगे और गाज गिरेगी, सिर्फ इसलिए क्योंकि वे गेंद के साथ छेड़खानी कर रहे थे.’

आपको बता दें कि स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर को 2016 में घरेलू शेफील्ड शील्ड टूर्नामेंट के दौरान गेंद से छेड़छाड़ की घटना में शामिल होने के लिए एक मैच रेफरी ने चेतावनी दी थी. 

सिडनी मार्निंग हेराल्ड की रिपोर्ट के अनुसार पूर्व अंपायर डेरिल हार्पर ने कहा कि नवंबर 2016 में ये दोनों न्यू साउथ वेल्स का प्रतिनिधित्व करते हुए विक्टोरिया के खिलाफ मैच में खेल भावना के अंतर्गत नहीं खेले थे. हार्पर ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मैच रैफरी और अंपायर चयन मैनेजर साइमन टफेल को भेजे ईमेल में यह बात कही थी.

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट अंपायर ने ईमेल में लिखा, ‘डेविड वॉर्नर पहले दिन न्यू साउथ वेल्स के विकेटकीपर पीटर नेविल की ओर लगातार थ्रो करते हुए बाउंसर गेंद फेंक रहे थे, अंपायरों ने स्मिथ को खेल भावना का समर्थन करने की अपील की.’

उन्होंने कहा, ‘मैं अगले दिन सुबह न्यू साउथ वेल्स के कोच ट्रेंट जान्स्टन को बताने वाले अंपायरों के साथ था कि सीए को राष्ट्रीय कप्तान के गेंद से छेड़छाड़ में शामिल होने से कोई समस्या नहीं है.’

ऑस्ट्रेलिया के हार्पर ने कहा कि स्मिथ ने अपनी टीम के हारने के बाद सिडनी क्रिकेट मैदान की पिच की शिकायत की थी और उन्होंने ऐसा भी दिखाया कि वह शेफील्ड शील्ड मैच में खेलने से खुश नहीं थे.

हार्पर ने कहा, ‘इसी समय दक्षिण अफ्रीकी कप्तान फाफ डु प्लेसिस पर गेंद से छेड़छाड़ की जांच की जा रही थी और इसके बाद उन पर आरोप तय किए गए.’

You May Also Like

English News