वास्तव में खून के आंसू रोती है 3 साल की ये बच्ची, पिता ने पीएम मोदी से मांगी मदद

आपने खून के आंसू रोने वाली कहावत तो सुनी ही होगी, लेकिन क्‍या आपने कभी सोचा है कि वाकई में ऐसा हो सकता है. हैदराबाद की रहने वाली तीन साल की बच्ची अहाना खून के आंसू ही रोती है. इस बीमारी के चलते माता-पिता और डॉक्टर बहुत डरे हुए हैं. डॉक्टर का कहना है कि इलाज के बाद खून का बहना कम हो गया है, लेकिन इसके स्थायी इलाज के बारे में कुछ कहना संभव नहीं है.

वास्तव में खून के आंसू रोती है 3 साल की ये बच्ची, पिता ने पीएम मोदी से मांगी मदद

View image on Twitter

View image on Twitter

 Follow

ANI 

 

@ANI_news

Hyderabad: Three-year-old Ahana cries tears of blood,terrifies parents and doctors

  •  
  •  

     2424 Retweets

  •  

     4141 likes

Twitter Ads info and privacy
 

डॉक्टर सिरीषा का कहना है कि यह हेमैटोड्रोसिस नाम की दुर्लभ बीमारी हो सकती है. इस बीमारी में पसीने या आंसू खून में मिक्स हो जाता है. उनका कहना है कि इलाज के बाद खून का बहना कम हो गया है.

ANI 

 

 ✔@ANI_news

Hyderabad: Three-year-old Ahana cries tears of blood,terrifies parents and doctors pic.twitter.com/WqK1rgNcFV

 Follow

ANI 

 

@ANI_news

She is suffering from Hematidrosis, which means sweating and even crying fluid mixed blood. After treatment bleeding has reduced:Dr.Sirisha pic.twitter.com/P0RxvI29FE

View image on Twitter
  •  
  •  

     1919 Retweets

  •  

     3131 likes

Twitter Ads info and privacy
 

अहाना के पिता मोहम्मद अफजल का कहना है कि ’जब मैं भी में स्थायी इलाज के लिए डॉक्टरों से पूछता हूं, तो उनका जवाब नहीं है. वो इस पर कोई सही जबाव नहीं दे रहे है. उन्हंने कहा- मैं मुख्यमंत्री के सी राव और मोदी जी की मदद के लिए अनुरोध करता हूं.

 

ANI 

 

 ✔@ANI_news

Replying to @ANI_news

She is suffering from Hematidrosis, which means sweating and even crying fluid mixed blood. After treatment bleeding has reduced:Dr.Sirisha pic.twitter.com/P0RxvI29FE

 Follow

ANI 

 

@ANI_news

When I ask doctors for a permanent cure,they don’t have an answer. I request CM KC Rao and Modi ji for help: Mohd Afzal,father of Ahana pic.twitter.com/2SRFE9OLwh

View image on Twitter
  •  
  •  

     1818 Retweets

  •  

     3434 likes

Twitter Ads info and privacy
 

बच्ची के पिता का कहना हैं, ‘अहाना को सप्ताह में पांच बार तक इस समस्या का सामना करना पड़ जाता है. साथ ही वह बेहोश होने लगती है और दौरे भी पड़ने लगते हैं.’ ख़बर के मुताबिक अहाना के माता-पिता बीमारी का खर्चा उठाने में असमर्थ हैं. उनके ऊपर पहले से कर्जा है. इस स्थिति में से कुछ परोपराकारी संगठन उनकी मदद के लिए आगे आए हैं.

You May Also Like

English News