विधवा की चाकू से वारकर के हत्या गांव के बाहर सड़क पर मिला खून से लथपथ शव

लखनऊ , 30 दिसम्बर काकोरी इलाके में रहने वाली एक विधवा महिला की गुरुवार की देर रात चाकू से गले पर वारकर हत्या कर दी गयी। मौके से पुलिस को घटना में प्रयुक्त चाकू मिला है। अभी तक इस बात का पता नहीं चल सका है कि महिला की हत्या किसने और क्यों की। फिलहाल पुलिस इस मामले में सभी पहलुओं पर छानबीन कर रही है।

काकोरी एसओ शशिकांत यादव ने बताया कि सराय प्रेमराज गांव में 47 वर्षीय विधवा मालती देवी अपने परिवार के साथ रहती थी। मालती एमसी सक्सेना कालेज में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी थी। बताया जाता है कि रोज की तरह गुरुवार को भी मालती काम पर कालेज गयी थी। शाम तक जब वह वापस घर नहीं लौटी तो परिवार वालों ने उसके बारे में पता लगाना शुरू किया।

कालेज से लोगों को इस बात का पता चला कि मालती अपने समय पर ही कालेज से घर के लिए निकली थी। परिवार के लोग मालती को इधर-उधर तलाशने में जुटे थे कि रात करीब 8 बजे गांव के लोगों ने मौरा मोड़ के पास मालती के शव को खून से लथपथ सड़क के किनारे पड़े देखा। लोगों ने फौरन इस बात की खबर मालती के परिवार वालों व काकोरी पुलिस को दी। सूचना पर पहुंची काकोरी पुलिस ने आनन-फानन मालती को ट्रामा सेंटर लेकर पहुंची, जहां डाक्टरों ने उसको मृत घोषित कर दिया।

उधर छानबीन के दौरान पुलिस को घटनास्थल से हत्या में प्रयुक्त एक चाकू मिला। मालती की हत्या गले पर चाकू से वारकर की गयी थी। काकोरी पुलिस ने मौके से मिले चाकू को अपने कब्जे में ले लिया है। फिलहाल इस मामले में परिवार वालों ने किसी पर कोई शक नहीं जताया है। एसओ काकोरी का कहना है कि इस मामले में मालती के देवर उमेश की तहरीर पर अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली गयी है और सभी पहलुओं पर छानबीन की जा रही है। मालती के परिवार में दो बेटे व तीन बेटियां हैं।

You May Also Like

English News