विपक्ष मे अहंकार पैदा हो गया है-राजनाथ

आज संसद के मानसून सत्र मे अपनी बात रखते हुए गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि 15 साल बाद किसी सरकार के खिलाफ अविश्‍वास प्रस्‍ताव लाया गया है. जब कांग्रेस 10 साल तक सत्‍ता में थी तो हम कभी भी सरकार के खिलाफ अविश्‍वास प्रस्‍ताव नहीं लेकर आए थे क्‍योंकि हम समझते हैं कि कांग्रेस के पास जनता का समर्थन है. मंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा में अविश्‍वास प्रस्‍ताव पर बहस के दौरान कहा कि लोकतंत्र में विपक्ष की अहमियत होती है. विपक्ष मे अहंकार पैदा हो गया है. लोकतंत्र का सम्‍मान होना चाहिए. लेकिन बिना किसी पुख्‍ता कारण के विपक्ष अविश्‍वास प्रस्‍ताव ला रहा है.आज संसद के मानसून सत्र मे अपनी बात रखते हुए गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि 15 साल बाद किसी सरकार के खिलाफ अविश्‍वास प्रस्‍ताव लाया गया है. जब कांग्रेस 10 साल तक सत्‍ता में थी तो हम कभी भी सरकार के खिलाफ अविश्‍वास प्रस्‍ताव नहीं लेकर आए थे क्‍योंकि हम समझते हैं कि कांग्रेस के पास जनता का समर्थन है. मंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा में अविश्‍वास प्रस्‍ताव पर बहस के दौरान कहा कि लोकतंत्र में विपक्ष की अहमियत होती है. विपक्ष मे अहंकार पैदा हो गया है. लोकतंत्र का सम्‍मान होना चाहिए. लेकिन बिना किसी पुख्‍ता कारण के विपक्ष अविश्‍वास प्रस्‍ताव ला रहा है.  राहुल ने मोदी को गले लगाया: सदन का अविस्मरणीय नजारा जो शायद नहीं दिखेगा दोबारा  राजनाथ सिंह ने कहा, प्रधानमंत्री का कहना है कि लोकतंत्र का सम्‍मान होना चाहिए इसलिए इस अविश्‍वास प्रस्‍ताव को स्‍वीकार किया गया है. वही राहुल गाँधी के आज के भाषण का समर्थ करते हुए कांग्रेस सांसद राजीव साटव ने कहा कि एक बार राहुल गांधी ने कहा था कि जब वे बोलेंगे तो भूकंप आएगा. आज निश्चित रूप से भूकंप आया है.  दो मिनट मे ऐतिहासिक और शर्मनाक दोनों काम कर गए राहुल  राहुल के आज के बयान और सदन के पीएम को गले लगाने वाली बात पर बीजेपी सांसद किरण खेर ने कहा "राहुल गांधी को खुद पर शर्म आनी चाहिए, वे बिना किसी सबूत नेताओं को निशाना नहीं बना सकते. वह संसद में ड्रामा कर रहे थे और पीएम को गले लगा रहे थे. मुझे लगता है कि अब वो बॉलीवुड में जाएंगे. हमें उन्हें वहां भेजना चाहिए". वही इस पर बीजेपी ने पहली प्रतिक्रिया देते हुए कहा की मनोरंजन के लिए शुक्रिया.

राजनाथ सिंह ने कहा, प्रधानमंत्री का कहना है कि लोकतंत्र का सम्‍मान होना चाहिए इसलिए इस अविश्‍वास प्रस्‍ताव को स्‍वीकार किया गया है. वही राहुल गाँधी के आज के भाषण का समर्थ करते हुए कांग्रेस सांसद राजीव साटव ने कहा कि एक बार राहुल गांधी ने कहा था कि जब वे बोलेंगे तो भूकंप आएगा. आज निश्चित रूप से भूकंप आया है.

राहुल के आज के बयान और सदन के पीएम को गले लगाने वाली बात पर बीजेपी सांसद किरण खेर ने कहा “राहुल गांधी को खुद पर शर्म आनी चाहिए, वे बिना किसी सबूत नेताओं को निशाना नहीं बना सकते. वह संसद में ड्रामा कर रहे थे और पीएम को गले लगा रहे थे. मुझे लगता है कि अब वो बॉलीवुड में जाएंगे. हमें उन्हें वहां भेजना चाहिए”. वही इस पर बीजेपी ने पहली प्रतिक्रिया देते हुए कहा की मनोरंजन के लिए शुक्रिया.

You May Also Like

English News