‘विराट कोहली नहीं, टीम इंडिया को मात देने मैदान संभालेगी अफगानिस्तान’

55 बरस के वेस्टइंडीज के पूर्व ओपनर और अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के हेड कोच फिल सिमंस का सबसे बड़ा इम्तिहान टीम के टेस्ट खेलने वाली टीम का दर्जा हासिल करने के बाद टीम इंडिया के खिलाफ बेंगलुरू में खेला जाने वाला पहला टेस्ट होगा।'विराट कोहली नहीं, टीम इंडिया को मात देने मैदान संभालेगी अफगानिस्तान'

फिल सिमंस बतौर क्रिकेटर रिटायर होने के बाद जिम्बाब्वे और वेस्टइंडीज के कोच रहे। अब इस साल जनवरी में उन्होंने क्रिकेट की नई ताकत के रूप में उभर रही अफगानिस्तान के टीम के कोच की जिम्मेदारी संभाली है। भारत के लालचंद राजपूत को बतौर चीफ कोच पद से हटाए जाने के बाद सिमंस को अफगानिस्तान का हेड कोच नियुक्त किया गया। उनका अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड से बतौर कोच करार जनवरी 2019 तक है।

सिमंस से ‘अमर उजाला’ ने टीम इंडिया के खिलाफ जून में अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के पहले टेस्ट की तैयारी की बाबत यहां खास बातचीत की। सिमंस कहते हैं, ‘मेरा मानना है कि क्रिकेट का सबसे बड़ा टेस्ट आज भी ‘टेस्ट’ मैच है। ऐसे में दुनिया की नंबर वन टेस्ट टीम भारत के खिलाफ अपना पहला टेस्ट खेलना वाकई खास रहेगा। मेरी नजर में टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली बेशक इस समय क्रिकेट के हर फॉर्मेट के बेस्ट बल्लेबाज हैं।’

उन्होंने आगे कहा, ‘विराट के जहां तक हमारे खिलाफ इस टेस्ट मैच में नहीं खेलने की बात है तो हम यह टेस्ट उनके नहीं बल्कि दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम भारत के खिलाफ खेलेंगें। यह जरूर कहूंगा कि हम चाहते थे कि वह हमारे खिलाफ खेलें, लेकिन यह विराट का अपना फैसला है। विराट और यहां तक कई दिग्गज बल्लेबाजों के बिना भी भारतीय टीम से टेस्ट मैच में अफगानिस्तान के लिए पार पाना बड़ी चुनौती होगा। विव रिचडर्स और सचिन तेंडुलकर की तरह विराट को अभी दुनिया का महानतम बल्लेबाज आंकने की बाबत तब चर्चा की जानी बेहतर है जब वह अपना बल्ला टांगेंगे।’

सिमंस ने आगे कहा, ‘बेशक टेस्ट मैच खेलने में हम पर दबाव होगा, लेकिन बेंगलुरू की पिच टेस्ट मैच के लिए अच्छी है और हम इस पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे। हमारी अफगानिस्तान क्रिकेट टीम की ताकत हमारी खासतौर पर स्पिन गेंदबाजी हैं। हमारे पास लेग स्पिनर राशिद खान और यंग ऑफ स्पिनर मुजीब उर रहमान के रूप में प्रतिभासम्पन्न स्पिनर हैं। रशीद खान को मैंने आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद के लिए गेंदबाजी करते देखा तो पाया उनकी गेंदबाजी बहुत बेहतर हुई। रशीद खान भारत के खिलाफ हमारे स्पिन आक्रमण के तुरुप के इक्के साबित हो सकते है।’

बकौल सिमंस, ‘हमारे पास अनुभवी ऑफ स्पिनर मोहम्मद नबी के साथ यंग चाइनामैन बॉलर के रूप में जहीर खान हैं। इनमें जिसको भी अंतिम एकादश में मौका मिलेगा उसके बाद अपना कूवत दिखा भारत को चौंकाने का मौका रहेगा।’

You May Also Like

English News