सचिन तेंदुलकर का टुटा रिकार्ड, विराट कोहली बने नंबर 1, आधे से भी कम मैच खेलकर ही बनाया ये बड़ा रिकॉर्ड

विराट कोहली को बहुत से लोग इस समय दुनिया का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज मानते हैं। इस दावे का समर्थन काफी हद तक आंकड़े भी करते हैं। गुरुवार (छह जुलाई) को वेस्टइंडीज और इंडिया के बीच हुए आखिरी वनडे मैच में कोहली ने शतकीय पारी जड़ते हुए न केवल अपने देश को जीत दिलायी बल्कि भारत के सर्वकालिक श्रेष्ठ बल्लेबाजों में एक सचिन तेंदुलकर को भी पीछे छोड़ दिया। विराट कोहली ने लक्ष्य का पीछा करते हुए शतक बनाने के मामले में सचिन का रिकॉर्ड तोड़ दिया। ये कोहली का करियर का 28वां शतक था। भारत ये सीरीज 3-1 से जीत गया है। सचिन ने 232 पारियों में ये रिकॉर्ड बनाया था जबकि कोहली ने 102 पारियों में ही उन्हें पीछे छोड़ दिया। कोहली को मैन ऑफ मैच चुना गया। अजिंक्य रहाणे को मैन ऑफ द सीरीज। रहाणे ने इस सीरीज में कुल 336 रन बनाए।सचिन तेंदुलकर का टुटा रिकार्ड, विराट कोहली बने नंबर 1, आधे से भी कम मैच खेलकर ही बनाया ये बड़ा रिकॉर्ड

लक्ष्य का पीछा करते हुए कोहली का ये 18वां शतक था। इससे पहले किसी भी टीम के खिलाफ लक्ष्य का पीछा करते हुए सर्वाधिक शतक बनाने का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर (17) के नाम था। सचिन के बाद हैं श्रीलंका के तिलकरत्ने दिलशान जिन्होंने लक्ष्य का पीछा करते हुए 11 शतक बनाए हैं। वहीं वेस्टइंडीज के क्रिस गेल ने लक्ष्य का पीछा करते हुए 11 शतक बनाए हैं। खास बात ये है कि इन रिकॉर्डधारियों में कोहली सबसे युवा हैं। सचिन और दिलशान संन्यास ले चुक हैं। ऐसे में कोहली के पास अपने रिकॉर्ड बेहतर बनाने  का मौका है। और उनका रिकॉर्ड तोड़ने के लिए दूसरे युवा क्रिकेटरों को लम्बे समय तक मेहनत करनी होगी।

गुरुवार को वेस्टइंडीज के किंग्सटन क्रिकेट मैदान पर हुए मैच में मेजबान टीम ने 50 ओवरों में नौ विकेट खोकर कुल 205 रन बनाए। छोटे लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने महज दो विकेट खोकर 36.5 ओवर में लक्ष्य हासिल कर लिया। भारत की तरफ से कोहली  ने 111 रन बनाकर नाबाद रहे। वहीं दिनेश कार्तिक ने अर्ध-शतकीय पारी खेली। अजिंक्य रहाणे ने 39 रन बनाए।   वेस्टइंडीज की तरफ से एएस जोसेफ और डी बीशू ने एक-एक विकेट लिए।

वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने का फैसला किया। ई लेविस के रूप में वेस्टइंडीज का पहला विकेट 39 रन पर गिर गया लेकिन उसके बाद केए होप और एसडी होप ने पारी को संभाल लिया। लेकिन ये दोनों बल्लेबाज लगातार दो गेंदों पर आउट हो गए और उसके बाद वेस्टइंडीज लड़खड़ा गई। केए होप 46 रन बनाकर और एसडी होप 51 रन बनाकर 76 रन के कुल स्कोर पर आउट हो गए। जेए होल्डर के 36 और आर पॉवेल के 31 रनों की बदौलत वेस्टइंडीज 200 का आंकड़ा पार कर सकी लेकिन जीत के लिए ये काफी कम साबित हुआ। भारत की तरफ से सर्वाधिक चार विकेट मोहम्मद शमी ने लिए। उमेश यादव ने तीन और हार्दिक पंड्या और केदार जाधव ने एक-एक विकेट लिए।

 

You May Also Like

English News