विवादित वीडियो जारी कर योगी की छवि बिगाड़ने की कोशिश, मुस्लिम ही नहीं हिन्दू भी बौखलाए

इन दिनों सोशल मीडिया पर एक ऐसा वीडियो वायरल हो रहा है जिसे देख मुस्लिम ही नहीं हिन्दू भी बौखला गए हैं। दरअसल इस वीडियो में एक मुस्लिम ऑटो ड्राइवर को कुछ लोग जबरन पकड़ के भगवा तिलक लगा देते हैं और कहते हैं आज से वह शख्स हिन्दुस्तानी मुस्लिम हुआ। बता दें यह वीडियो शनिवार को फेसबुक पर अपलोड किया गया था। दो दिन में दो दिन में पांच लाख पचास हजार लोग इसे देख चुके हैं। इस वीडियों ने जनता में रोष पैदा कर दिया है। इसे सीएम योगी के खिलाफ बड़ी साजिश माना जा रहा है।योगी के खिलाफ बड़ी साजिश

खबरों के मुताबिक़ इस वीडियो को हैदराबाद मेट्रो न्यूज़ नाम के यूजर ने फेसबुक पर डाला है। वीडियो को एक अप्रैल को फेसबुक में डाला गया है और ये दो दिन में वायरल हो चुका है, इस वीडियो को दो दिन में पांच लाख लाख पचास हजार लोग देख चुके हैं और 12, 500 लोग शेयर कर चुके हैं। वीडियो पर हजारों लोगों ने अपनी प्रतिक्रिया भी दी है।

वीडियो से मालूम होता है कि एक मुस्लिम ड्राइवर को कुछ लोगों ने रोक रखा है और उसे ऑटो से नीच करने की कोशिश करते हैं। लोग उससे कुछ बातचीत करते हैं। टेम्पो में बैठा शख्स अपने बचाव में कुछ कहता है। आखिरकार कुछ लोग उसे तिलक लगाते हैं और कहते हैं कि तुम आज से हिन्दुस्तानी मुसलमान हुए। हालांकि ऑटो में बैठा शख्स अपने कपड़े से तिलक तुरंत मिटा लेता है।

ये वीडियो कहां का है ये पता नहीं चल पाया है। इस वीडियो पर लोगों ने गुस्से में अपनी प्रतिक्रिया दी है। मोहम्मद आमिर नाम के यूजर ने लिखा है कि क्या इस तरह का वीडियो कुछ लोगों को कट्टर होने के लिए प्रेरित नहीं करता है? सुतानू पॉल नाम के एक यूजर ने लिखा है कि मैं एक हिन्दू हूं लेकिन इस तरह की कार्रवाई को कतई सपोर्ट नहीं करता हूं। ये बेहद शर्मनाक हैं। सैय्यद सिंकदर नाम के यूजर ने लिखा है कि ऐसे लोग हिन्दू नहीं हो सकते हैं। सुखविंदर पाल सिंह ने लिखा है कि पूरी दुनिया भारत को आध्यमिकता के लिए जानती है लेकिन अब लोग भारत को असहिष्णुता के लिए जानेंगे।

इस बातचीत के दौरान एक शख्स ऑटो पर भगवा रंग में जय श्री राम लिख देता है। एक मिनट 35 सेकेंड के इस वीडियो में ऑटो में बैठा शख्स कई बार अपने ईमान की दुहाई देकर वहां से जाना चाहता है लेकिन लोग उसे जाने नहीं देते हैं। आशंका जताई जा रही हैं कि यह वीडियो विवादित मुद्दा भड़काने के लिए महज एक साजिश मात्र है। इसके आधार पर हिन्दुओं की छवि के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ की छवि का गलत प्रचार करने की कोशिश की जा रही है।

You May Also Like

English News