विश्व क्रिकेट में तेज गेंदबाजी का नया नाम मोहम्मद अब्बास

विश्व क्रिकेट में पाकिस्तान हमेशा से तेज गेंदबाजों की धरती रहा है. पाकिस्तानी क्रिकेट टीम हमेशा से ही तेज गेंदबाजों के दम पर जीत दर्ज करने के लिए जानी जाती रही है. बल्लेबाजों के लिए क्रिकेट का मैदान हमेशा से ही स्वर्ग रहा है मगर उसे कब्रगाह बनाने का काम पाकिस्तानी बॉलर्स दशकों से करते आ रहे है. हर दशक में पाक ने क्रिकेट को कई महान बॉलर्स दिए है. वसीम अकरम, वकार यूनुस, शोएब अख्तर, मोहम्मद आमिर, हसन अली से गुजरता हुआ ये सिलसिला अब एक और खतरनाक गेंदबाज मोहम्मद अब्बास तक आ गया है. 28 साल के अब्बास ने साल 2017 में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया था. डेब्यू करने के बाद से ही वह कहर बरपाते आ रहे हैं. अब्बास की खास बात यह कि वह गेंद को स्विंग कराना बखूबी जानते हैं और इसी के सहारे वह इंग्लैंड और आयरलैंड में बल्लेबाजों को नचाने में कामयाब हो रहे हैं.विश्व क्रिकेट में पाकिस्तान हमेशा से तेज गेंदबाजों की धरती रहा है. पाकिस्तानी क्रिकेट टीम हमेशा से ही तेज गेंदबाजों के दम पर जीत दर्ज करने के लिए जानी जाती रही है. बल्लेबाजों के लिए क्रिकेट का मैदान हमेशा से ही स्वर्ग रहा है मगर उसे कब्रगाह बनाने का काम पाकिस्तानी बॉलर्स दशकों से करते आ रहे है. हर दशक में पाक ने क्रिकेट को कई महान बॉलर्स दिए है. वसीम अकरम, वकार यूनुस, शोएब अख्तर, मोहम्मद आमिर, हसन अली से गुजरता हुआ ये सिलसिला अब एक और खतरनाक गेंदबाज मोहम्मद अब्बास तक आ गया है. 28 साल के अब्बास ने साल 2017 में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया था. डेब्यू करने के बाद से ही वह कहर बरपाते आ रहे हैं. अब्बास की खास बात यह कि वह गेंद को स्विंग कराना बखूबी जानते हैं और इसी के सहारे वह इंग्लैंड और आयरलैंड में बल्लेबाजों को नचाने में कामयाब हो रहे हैं.    अब्बास मौजूदा समय में इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट खेलने में व्यस्त हैं. उन्होंने इस मैच की पहली पारी में धारदार गेंदबाजी की और 14 ओवरों में 7 मेडन डालते हुए सिर्फ 23 रन देकर 4 विकेट झटक डाले. अब्बास की शानदार गेंदबाजी की बदौलत ही इंग्लैंड पहली पारी में 184 रनों पर सिमट गई. अब्बास अबतक 7 टेस्ट खेल चुके हैं. इस दौरान उन्होंने 68 मेडन डाले हैं. साथ ही वह विकेट निकालने में भी पीछे नहीं हैं और अबतक 36 विकेट निकाल चुके हैं.    अक्सर यह देखा जाता है कि भारतीय उपमहाद्वीप के गेंदबाज बाहरी महाद्वीपों में जाकर उतना असर नहीं डाल पाते लेकिन अब्बास इंग्लैंड और आयरलैंड में कहर बरपा रहे हैं. पिछले दिनों आयरलैंड में खेले गए एकमात्र टेस्ट मैच में उन्होंने 9 विकेट झटके थे और अपनी शानदार गेंदबाजी का नमूना पेश किया था. अब्बास ने अब तक 72 फर्स्ट क्लास मैचों में 20.95 की औसत के साथ 320 विकेट झटके हैं. जाहिर है कि उन्होंने अपने प्रदर्शन के दमपर चयनकर्ताओं को सिलेक्शन के लिए मजबूर कर दिया. तो पाकिस्तान के तेजगेंद्बाजो की फेहरिश्त में नया नाम है मोहम्मद अब्बास.

अब्बास मौजूदा समय में इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स टेस्ट खेलने में व्यस्त हैं. उन्होंने इस मैच की पहली पारी में धारदार गेंदबाजी की और 14 ओवरों में 7 मेडन डालते हुए सिर्फ 23 रन देकर 4 विकेट झटक डाले. अब्बास की शानदार गेंदबाजी की बदौलत ही इंग्लैंड पहली पारी में 184 रनों पर सिमट गई. अब्बास अबतक 7 टेस्ट खेल चुके हैं. इस दौरान उन्होंने 68 मेडन डाले हैं. साथ ही वह विकेट निकालने में भी पीछे नहीं हैं और अबतक 36 विकेट निकाल चुके हैं.

अक्सर यह देखा जाता है कि भारतीय उपमहाद्वीप के गेंदबाज बाहरी महाद्वीपों में जाकर उतना असर नहीं डाल पाते लेकिन अब्बास इंग्लैंड और आयरलैंड में कहर बरपा रहे हैं. पिछले दिनों आयरलैंड में खेले गए एकमात्र टेस्ट मैच में उन्होंने 9 विकेट झटके थे और अपनी शानदार गेंदबाजी का नमूना पेश किया था. अब्बास ने अब तक 72 फर्स्ट क्लास मैचों में 20.95 की औसत के साथ 320 विकेट झटके हैं. जाहिर है कि उन्होंने अपने प्रदर्शन के दमपर चयनकर्ताओं को सिलेक्शन के लिए मजबूर कर दिया. तो पाकिस्तान के तेजगेंद्बाजो की फेहरिश्त में नया नाम है मोहम्मद अब्बास.

You May Also Like

English News