वीडियो में देखें लश्कर के कमांडर अबू दुजाना ने मरने से पहले कौन-सी खोल दी थी पाकिस्तान की ये बड़ी पोल…

श्रीनगर: भारत में गंदे खेल खेलना पाकिस्तान कभी नहीं बंद कर सकता है। भारत में भी कई ऐसे लोग हैं जो पाकिस्तान के बहकावे में आकर अपने देश का ही नुकसान कर रहे हैं। उन लोगों को समझ नहीं है कि पाकिस्तान केवल उनका इस्तेमाल कर रहा है, जब समय आएगा तो पाकिस्तान उन्हें ठेंगा दिखाने से बाज नहीं आएगा। पाकिस्तान उन लोगों को धर्म के नाम पर बरगलाने का काम करता है। 

वीडियो में देखें लश्कर के कमांडर अबू दुजाना ने मरने से पहले कौन-सी खोल दी थी पाकिस्तान की ये बड़ी पोल...

पाकिस्तान के कहने पर करते हैं भारत में खून-खराबा:

इससे भी हैरानी की बात है कि ये लोग धर्म के नाम पर बहक जाते हैं और अपने लोगों का खून बहाने से पहले एक बार भी नहीं सोचते हैं। जम्मू-कश्मीर में ही कई ऐसे आतंकी पल रहे हैं जो भारत का नुकसान पाकिस्तान के कहने पर करते हैं। ठीक ऐसे ही पाकिस्तान के कुछ लोग भी हैं, जिन्हें वह धर्म की पट्टी पढ़ाकर यहाँ आतंक फैलाने के लिए भेज देता है। उन्ही में से एक था अबू दुजाना। लश्कर-ए-तोयबा का कमांडर आतंकियों की 12 मोस्ट वांटेड लिस्ट में शामिल था। अभी हाल ही में सेना ने उसे मारकर एक बड़ी कामयाबी हासिल की है।

ऑडियो टेप में खोली पाकिस्तान की पोल:

अबू दुजाना का मरने से पहले एक ऑडियो टेप लीक हुआ है, जिसमें दुजाना ने घाटी के आतंकवाद पाकिस्तान की पोल खोल कर रख दी है। एनकाउंटर से कुछ समय पहले एक अधिकारी से फ़ोन पर हुई बातचीत में दुजाना ने कहा था कि वह जनता है कि वह पाकिस्तान के हाथों की कठपुतली है। केवल यही नहीं वह कश्मीर में पाकिस्तान के गंदे खेल का एक मोहरा मात्र है। इस बातचीत में दुजाना ने फ़ोन पर कहा कि क्या हाल है? यह सुनकर अफसर ने कहा कि मेरा हाल छोड़ दुजाना, तू सरेंडर को नहीं कर देता है?

तुमने शादी भी की है और जो तुम कर रहे हो वह बिलकुल भी सही नहीं है। लोगों को परेशान करने के लिए पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी तुम्हारा सिर्फ इस्तेमाल कर रही है। दुजाना ने कहा कि हम शहीद होने निकले थे। मैं क्या करूँ, जिसको खेलना है खेले। कभी हम आगे तो कभी आप, आज आपने मुझे पकड़ लिया है। इसके लिए आपको मुबारक। जिसको जो भी करना है कर ले लेकिन मैं सरेंडर नहीं करूँगा। जो मेरी किस्मत में लिखा होगा वही अल्लाह करेगा और वही ठीक है। यह सुनकर अफसर ने कहा कि तुम्हें अपने माता-पिता की चिंता होनी चाहिए।

तुम चाहो तो उनके पास लौट सकते हो, तुम यह सब किसलिए कर रहे हो? दुजाना ने कहा कि मेरे माँ-बाप तो उसी दिन मर गए थे, जिस दिन मैं उन्हें छोड़कर आया था। अफसर ने कहा कि भारतीय सेना पाकिस्तान में घुसपैठ करने वाले आतंकियों से खून-खराबा नहीं करना चाहती है। इसके जवाब में दुजाना ने कहा कि वह गेम समझ रहा है। उसने बातचीत के दौरान यह स्वीकार किया कि वह पाकिस्तान के गिलगिट-बलिस्तान का रहने वाला है, वह अपना घर छोड़कर यहाँ घाटी में आया हुआ है।

देखें वीडियो-

You May Also Like

English News