गोपालकृष्ण V/s वेंकैया, कौन बनेगा उपराष्ट्रपति पद का विजता?

देश में राष्ट्रपति के चुने जाने के बाद बीते दिनों काफी अफरा-तफरी रही. इसी अफरा-तफरी के बीच आज उपराष्ट्रपति पद के लिए मतदान होंगे और नतीजे भी आ जाएंगे. उपराष्ट्रपति संसद के ऊपरी सदन राज्यसभा का सभापति भी होता है. भारत के 15वें उपराष्ट्रपति के लिए चुनावी मैदान में एनडीए की ओर से वेंकैया नायडू हैं. तो वहीं विपक्ष ने पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल और गांधीजी के पौत्र गोपालकृष्ण गांधी को मैदान में उतारा है.

गोपालकृष्ण V/s वेंकैया, कौन बनेगा उपराष्ट्रपति पद का विजता?

चुनाव का कार्यक्रम

शनिवार यानी आज ही उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए वोट पड़ेंगे. उपराष्ट्रपति का चुनाव सीक्रेट बैलेट के माध्यम से होता है. इसमें लोकसभा और राज्यसभा के सदस्य वोट करते हैं. अपनी पसंद को मार्क करने के लिए सांसद एक खास पेन का इस्तेमाल करते हैं. किसी दूसरे पेन से मार्क किये गए वोट को खारिज कर दिया जाता है. बैलेट पेपर में चुनाव लड़ रहे उम्मीदवार का नाम होता है लेकिन इसपर किसी तरह का चुनाव चिह्न नहीं होता. इसके परिणाम आज ही सामने होंगे.

ये भी पढ़े: अगर अपने अभी भी इनकम टैक्स रिटर्न फाइल नहीं की है, तो जल्दी करें अब आखरी मौका ही है आज ही…

क्या है वोटों का गणित?

उपराष्ट्रपति चुनाव में सिर्फ लोकसभा और राज्यसभा के सदस्य ही वोट करते हैं. ऐसे में एनडीए की जीत में कोई मुश्किल नहीं दिख रही है. अब राज्यसभा में भी बीजेपी के सबसे ज्यादा 58 सांसद हैं. वहीं देश की मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस के 57 सांसद हैं. बीजेपी की अगुवाई वाली एनडीए के पास लोकसभा में 340 और राज्यसभा में 85 सांसद हैं. कुल होते हैं 425. पिछले उपराष्ट्रपति चुनाव में हामिद अंसारी को विपक्ष के उम्मीदवार जसवंत सिंह के मुकाबले 490 वोट मिले थे. जसवंत सिंह को 238 वोट मिले थे.

ये भी पढ़े: #डोकलाम: चीन ने फिर अपनाया कड़ा रुख, बोला- भ्रम को छोड़ दो ‘संयम की भी सीमा होती है’

जदयू पर होगी खास नजर

बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड पर इस चुनाव के दौरान खास नजर रहेंगी. जदयू सांसदों और विधायकों ने राष्ट्रपति चुनाव के दौरान महागठबंधन में रहते हुए भी एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को वोट किया था. वहीं अब वे एनडीए का हिस्सा हैं और गोपालकृष्ण गांधी को समर्थन देने का ऐलान कर चुके हैं. इसके साथ ही राष्ट्रपति चुनाव के दौरान रामनाथ कोविंद का समर्थन करने वाली बीजू जनता दल भी गोपाल कृष्ण गांधी के लिए वोट करने की बात कह रही है. वोटिंग दिन 10 बजे से शाम 5 बजे तक चलेगी.

You May Also Like

English News