वैश्विक व्यापार के समक्ष अमेरिका ने खड़ी की नई चुनौतियां- मंत्री सुरेश प्रभु

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने अपने ताजा बयान में कहा है कि अमेरिका के संरक्षणवादी उपायों से दुनिया के सामने गंभीर चुनौतियां पैदा हो रही हैं. जिसे देखते हुए भारत को निर्यात बढ़ाने के उपायों की तरफ ध्यान देने की जरूरत है. प्रभु ने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप के नेत्तृत्व वाली अमेरिकी सरकार अपने सभी प्रमुख व्यापार सहयोगियों के खिलाफ एक्शन ले रही जिसमें चीन जैसे देश का नाम भी शामिल है. गौरतलब है कि वाणिज्य मंत्री का ये बयान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के चीनी आयातों पर 60 अरब डॉलर का आयात शुल्क लगाए जाने के बाद आया है.वैश्विक व्यापार के समक्ष अमेरिका ने खड़ी की नई चुनौतियां- मंत्री सुरेश प्रभु

वहीं अमेरिका ने भारत के खिलाफ कदम उठाते हुए इस्पात और एल्युमीनियम पर आयात शुल्क बढ़ा दिया है. इस विषय पर बात करते हुए प्रभु ने कहा कि, “यह वास्तविकता है कि दुनिया गंभीर चुनौतियों का सामना कर रही है इस संदर्भ में हमें निर्यात को बढ़ाना है.” प्रेसवार्ता के दौरान अमेरिका और चीन के बीच संभावित व्यापार युद्ध के प्रभाव के बारे में पूछे जाने पर प्रभु ने कहा कि, “अगर कोई भी देश एकतरफा कार्रवाई करता है, हम निश्चित रूप से उस पर गौर करेंगे और उससे समुचित तरीके से निपटेंगे.”

इस दौरान प्रभु ने यह भी कहा कि भारत नियम कानूनों के साथ पारदर्शी और भागीदारी वाली व्यापार प्रणाली में भरोसा करता है और हाल ही में उसने डब्ल्यूटीओ में नई जान फूंकने के इरादे से वैश्विक व्यापार निकाय के प्रमुख सदस्य देशों को आमंत्रित किया था.

You May Also Like

English News