वॉट्सऐप यूजर्स बरतें सावधानी, इन 3 तरीकों से हैकर्स बदल सकते हैं आपके भेजे गए मैसेज

वॉट्सऐप ने हाल ही में फेक न्यूज और मिस इन्फॉर्मेशन के लिए कई आवश्यक कदम उठाए हैं। साथ ही, मैसेज फारवर्ड करने के लिए एक सीमा भी तय की गई है। वॉट्सऐप पर यूजर्स अब एक मैसेज को केवल 5 बार ही फारवर्ड कर सकेंगे। इसके लिए वॉट्सऐप जल्द ही नया अपडेट रोल-आउट कर सकता है। ऐसा प्रतीत हो रहा है फेसबुक के स्वामित्व वाले इस इंस्टेंट मैसेजिंग प्लेटफार्म को और भी सुरक्षित करने की जरूरत है।वॉट्सऐप यूजर्स बरतें सावधानी, इन 3 तरीकों से हैकर्स बदल सकते हैं आपके भेजे गए मैसेज

सिक्युरिटी रिसर्च फर्म चेक प्वाइंट ने वॉट्सऐप के कई खामियों के बारे में बताया है। इन खामियों की वजह से इसके हैक होने का खतरा बढ़ गया है। इस रिसर्च फर्म के मुताबिक, वॉट्सऐप द्वारा भेजे गए आपके निजी या ग्रुप में भेजे गए मैसेज को हैकर्स पढ़ भी सकते हैं और उसे बदल कर भी भेज सकते हैं। सिक्युरिटी फर्म ने अपने ब्लॉगपोस्ट में वॉट्सऐप यूजर्स को इन तीन संभावित अटैक से बचने के लिए आगाह किया है।

  • सिक्युरिटी रिसर्च फर्म के ब्लॉगपोस्ट के मुताबिक, हैकर्स आपके रिप्लाइड मैसेज को मैन्युपुलेट कर सकते हैं और भेज सकते हैं।
  • इस रिसर्च फर्म ने यह भी बताया कि हैकर्स आपके ज्वाइन किए हुए ग्रुप में आपके नाम से मैसेज भेज सकते हैं। इसके अलावा हैकर्स अगर ग्रुप में नहीं है तो भी ग्रुप हैक करके मैसेज को भेज सकते हैं।
  • हैकर्स आपके निजी मैसेज को ग्रुप में भी भेज सकते हैं और ग्रुप मैसेज को निजी तौर पर भेज सकते हैं।

इन तीन संभावित अटैक से बचने के लिए सिक्युरिटी फर्म ने यूजर्स के अलावा वॉट्सऐप को भी आगाह किया है। इसके अलावा वॉट्सऐप ने इन दिनों यूजर्स को फेक न्युज और अफवाहों से बचने के लिए डिजिटल लिटरेसी भी रोल-आउट किया है। इसके साथ ही किसी भी ग्रुप के एडमिन को स्पेशल ऑथोरिटी भी दी गई है। जिसमें ग्रुप एडमिन ग्रुप मेंबर को मैसेज और मीडिया शेयर करने पर लगाम भी लगा सकते हैं। इसके अलावा ग्रुप आइकन बदलने के लिए भी ग्रुप एडमिन किसी भी ग्रुप मेंबर को रिस्ट्रिकट कर सकते हैं।

You May Also Like

English News