वोडाफोन-आइडिया के ‘गठबंधन’ पर Jio ने ली चुटकी

31 अगस्त को दो बड़ी टेलीकॉम कंपनियों- आइडिया और वोडाफोन का विलय पूरा हुआ. दोनों ने मिलकर भारत की सबसे बड़ी कंपनी बनते हुए एयरटेल को पीछे छोड़ दिया. इस मौके पर आइडिया और वोडाफोन दोनों ने अपने ट्विटर हैंडल से मजेदार ट्वीटकिए, जिस पर जियो ने उनकी चुटकी ले ली.यानी दोनों ट्वीट में कंपनियों इसे एक रिश्ते की तरह दर्शाया जिसे अब सार्वजनिक कर दिया गया है. इन ट्वीट्स के बाद सबसे मजेदार ट्वीट रिलायंस जियो की ओर से किया गया. जियो ने वोडाफोन के ट्वीट को कोट करते हुए लिखा कि, हम 2016 से लोगों को साथ लाने का काम कर रहे हैं.   Reliance Jio ✔ @reliancejio  Bringing people together since 2016. ❤️@VodafoneIN @Idea #WithLoveFromJio  Vodafone ✔ @VodafoneIN Yeah @Idea. It's time we made it official.😉🙂 https://www.vodafoneidea.com/  https://twitter.com/Idea/status/1035490105023180800 …  8:21 PM - Aug 31, 2018 12.7K 7,390 people are talking about this Twitter Ads info and privacy आपको बता दें जियो की शुरुआत 2016 में सितंबर के महीने में ही हुई थी और जियो के आगमन से टेलीकॉम सेक्टर में भूचाल आ गया था. माना जा सकता है कि जियो के आने से ही टेलीकॉम सेक्टर में प्रतिस्पर्धा बढ़ी है, जिसके परिणाम-स्वरूप आइडिया और वोडाफोन को एक होना पड़ा है.

दोनों कंपनियों के विलय को लेकर सबसे पहला ट्वीट आइडिया की ओर से किया गया. आइडिया ने ट्वीट किया कि, हे वोडाफोन! जानते हो सब हमारे बारे में ही बात कर रहे हैं. ट्वीट का इशारा अप्रत्यक्ष रूप से बाकी कंपनियों पर ही था.

इसके बाद वोडाफोन ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से आइडिया के ट्वीट को कोट करते हुए लिखा कि, हां आइडिया, ये समय है कि अब इसे आधिकारिक कर दिया जाए. ट्वीट के साथ ही नई वेबसाइट का लिंक भी शेयर किया गया है.

यानी दोनों ट्वीट में कंपनियों इसे एक रिश्ते की तरह दर्शाया जिसे अब सार्वजनिक कर दिया गया है. इन ट्वीट्स के बाद सबसे मजेदार ट्वीट रिलायंस जियो की ओर से किया गया. जियो ने वोडाफोन के ट्वीट को कोट करते हुए लिखा कि, हम 2016 से लोगों को साथ लाने का काम कर रहे हैं.

आपको बता दें जियो की शुरुआत 2016 में सितंबर के महीने में ही हुई थी और जियो के आगमन से टेलीकॉम सेक्टर में भूचाल आ गया था. माना जा सकता है कि जियो के आने से ही टेलीकॉम सेक्टर में प्रतिस्पर्धा बढ़ी है, जिसके परिणाम-स्वरूप आइडिया और वोडाफोन को एक होना पड़ा है.

You May Also Like

English News