शराबंदी के बावजूद सरकारी बाबू दफ्तर में शराब पी रहे थे, किया गये गिरफ्तार

बिहार में शराब पीने पर भले ही पूरी तरह से पाबंदी लगी हुई हो लेकिन बिहार में आसानी से शराब खरीदी जा सकती है और जाम लड़ाए जा सकते हैं।शराबंदी के बावजूद सरकारी बाबू दफ्तर में शराब पी रहे थे, किया गये गिरफ्तार

पहली बार लालू ने खोला नीतीश को दही का टीका लगाने का ये राज़…

ऐसा ही नजारा देखने को मिला बिहार के पूर्वी चंपारण जिले के एक सरकारी दफ्तर में।

यहां दो सरकारी कर्मचारी दफ्तर में शराब पीते रंगे हाथों पकड़े गए और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। दोनों को तुरंत निलंबित कर दिया गया। 

पुलिस के मुताबिक पूर्वी चंपारण के जिलाधिकारी रमण कुमार सोमवार को मोतिहारी अंचल कार्यालय के औचक निरीक्षण पर थे। रमण कुमार मोतीझील से

संबंधित फाइलों को देखने आए थे।

इसी दौरान उन्होंने कमरे में दो कर्मचारियों को शराब पीते पकड़ा। कर्मचारियों की टेबल पर विदेशी शराब की दो बोतलें और खाने का सामान रखा था। कर्मचारी शराब पीते हुए फाइलों का काम निपटा रहे थे। 

दोनों आरोपी सस्पेंड और गिरफ्तार
जिलाधिकारी ने शराब पीने के आरोपी राजस्व कर्मचारी हारून रशीद और चपरासी भोला राम को निलंबित करने का तत्काल निर्देश दिया।

पूर्वी चंपाराण के जिलाधिकारी ने मंगलवार को बताया कि दोनों कर्मचारियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि मामला गंभीर
है और जांच के बाद कठोर कारवाई की जाएगी।

बिहार में पिछले साल अप्रैल महीने से शराब पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया गया है।

You May Also Like

English News