शराब पीकर सो गया स्टेशन मास्टर, जहां-तहां खड़ी हो गईं ट्रेनें

जम्मूतवी-हावड़ा मेन रेलवे लाइन के मुरशदपुर रेलवे स्टेशन मास्टर ड्यूटी के दौरान शराब पीकर सो गया। स्टेशन मास्टर के रेलवे लाइन क्लीयर न दिए जाने से चार महत्वपूर्ण एक्सप्रेस ट्रेनें और दो मालगाडिय़ां जहां-तहां खड़ी हो गईं। स्टेशन मास्टर के साथ अनहोनी की आशंका से मुरादाबाद कंट्रोल में खलबली मच गई। कंट्रोल के निर्देश पर नजीबाबाद से स्टेशन मास्टर भेजकर ट्रेनों का संचालन शुरू कराया गया। स्टेशन मास्टर को निलंबित कर दिया गया है। जम्मूतवी-हावड़ा मेन रेलवे लाइन के मुरशदपुर रेलवे स्टेशन मास्टर ड्यूटी के दौरान शराब पीकर सो गया। स्टेशन मास्टर के रेलवे लाइन क्लीयर न दिए जाने से चार महत्वपूर्ण एक्सप्रेस ट्रेनें और दो मालगाडिय़ां जहां-तहां खड़ी हो गईं। स्टेशन मास्टर के साथ अनहोनी की आशंका से मुरादाबाद कंट्रोल में खलबली मच गई। कंट्रोल के निर्देश पर नजीबाबाद से स्टेशन मास्टर भेजकर ट्रेनों का संचालन शुरू कराया गया। स्टेशन मास्टर को निलंबित कर दिया गया है।    ऐसा रहा पूरा मामला    नजीबाबाद से करीब 10 किमी दूर मुरशदपुर रेलवे स्टेशन पर शुक्रवार रात स्टेशन मास्टर दीप सिंह ड्यूटी पर तैनात था। वह शराब पीकर स्टेशन पर बनी बेंच पर सो गया। शराब की बोतलें नीचे रख दीं। देहरादून से वाराणसी जा रही जनता एक्सप्रेस रात 10:42 बजे नजीबाबाद रेलवे स्टेशन पर पहुंची। ट्रेन को लाइन क्लीयर देने के लिए रात 10:30 बजे से ही नजीबाबाद स्टेशन मास्टर मुरशदपुर के स्टेशन मास्टर से संपर्क साध रहे थे, लेकिन उसने फोन रिसीव नहीं किया। संपर्क न होने पर जनता एक्सप्रेस को नजीबाबाद में ही रोक लिया गया और इसकी सूचना मुरादाबाद कंट्रोल को दी गई।   अरुणाचल प्रदेश मार्का आठ पेटी शराब पकड़ी यह भी पढ़ें जांच-पड़ताल और कार्रवाई  कंट्रोल के निर्देश पर एक अन्य स्टेशन मास्टर वीपी शुक्ला को मुरशदपुर भेजा गया। वीपी शुक्ला ने पहुंचकर देखा तो स्टेशन मास्टर दीप सिंह सोता मिला। स्टेशन अधीक्षक आरके मीणा ने मामले को गंभीरता से लेते हुए रेलवे पुलिस को इसकी सूचना दी। आरपीएफ एएसआइ महावीर सिंह नेगी व जीआरपी एएसआइ शिव सिंह नागर पुलिस बल के साथ मुरशदपुर स्टेशन पहुंच गए। मुरादाबाद के सीनियर डीआरओएम ने दीप सिंह को निलंबित कर दिया।

ऐसा रहा पूरा मामला

नजीबाबाद से करीब 10 किमी दूर मुरशदपुर रेलवे स्टेशन पर शुक्रवार रात स्टेशन मास्टर दीप सिंह ड्यूटी पर तैनात था। वह शराब पीकर स्टेशन पर बनी बेंच पर सो गया। शराब की बोतलें नीचे रख दीं। देहरादून से वाराणसी जा रही जनता एक्सप्रेस रात 10:42 बजे नजीबाबाद रेलवे स्टेशन पर पहुंची। ट्रेन को लाइन क्लीयर देने के लिए रात 10:30 बजे से ही नजीबाबाद स्टेशन मास्टर मुरशदपुर के स्टेशन मास्टर से संपर्क साध रहे थे, लेकिन उसने फोन रिसीव नहीं किया। संपर्क न होने पर जनता एक्सप्रेस को नजीबाबाद में ही रोक लिया गया और इसकी सूचना मुरादाबाद कंट्रोल को दी गई।

जांच-पड़ताल और कार्रवाई

कंट्रोल के निर्देश पर एक अन्य स्टेशन मास्टर वीपी शुक्ला को मुरशदपुर भेजा गया। वीपी शुक्ला ने पहुंचकर देखा तो स्टेशन मास्टर दीप सिंह सोता मिला। स्टेशन अधीक्षक आरके मीणा ने मामले को गंभीरता से लेते हुए रेलवे पुलिस को इसकी सूचना दी। आरपीएफ एएसआइ महावीर सिंह नेगी व जीआरपी एएसआइ शिव सिंह नागर पुलिस बल के साथ मुरशदपुर स्टेशन पहुंच गए। मुरादाबाद के सीनियर डीआरओएम ने दीप सिंह को निलंबित कर दिया।

 

You May Also Like

English News