शहीद जवान के घर अचानक पहुंचा सीएम योगी का फोन, बेटे ने कहा – अब करूंगा…

देवरिया। जम्मू-कश्मीर के पुंछ में पाकिस्तान की तरफ से हुई फायरिंग में तीन जवान शहीद हो गए थे। इतना ही नहीं पाक ने जवानों के शव के साथ बर्बाता कर अपनी हैवानियत दिखाई थी।

शहीद जवान ये भी पढ़े:> अभी-अभी: एक्शन लीजिए पीएम मोदी जी, बच्चों ने बोली ये बड़ी बात…

जिसके बाद से ही पूरे देश में रोष का माहौल है। हर कोई सरकार से बदला लेने की अपली कर रहा है। इसी बीच बीएसएफ के शहीद जवान प्रेम सागर के बेटे ने अपने पिता का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया था।

उनकी मांग थी कि जब तब सीएम योगी आदित्यनाथ नहीं आएंगे तब तक अंतिम संस्कार नहीं होगा। लेकिन बाद में शहीद प्रेम सागर के घर वाले अब उनका अंतिम संस्कार करने के लिए राजी हो गई हैं।

शहीद जवान प्रेम सागर का अंतिम संस्कार कर दिया गया है

खबर है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फोन पर उनके परिजनों से 13 दिन के अंदर घर आने का वादा किया है। जिसके बाद परिजन अंतिम संस्कार किया। आज सुबह करीब सात बजे प्रेम सागर का अंतिम संस्कार कर दिया गया है।

इस दौरान उन्हें अंतिम विदाई देने के लिए लोगों का भारी हुजूम उमड़ पड़ा। सोमवार को पाकिस्तान के कायराना हमले में शहीद हुए बीएसएफ के हेड कॉन्स्टेबल प्रेम सागर का पार्थिव शरीर विशेष हेलिकॉप्टर से लखनऊ लाया गया था।

शहीद की बेटी ने एक सिर के बदले मांगे 50 सिर

शहीद प्रेम सागर की बेटियां भी पाकिस्तान पर कड़ी कार्रवाई की मांग की थी। शहीद की बेटी का कहना था कि एक सिर के बदले 50 सिर चाहिए।

पाकिस्तान ने कृष्णा घाटी सेक्टर में युद्धविराम का उल्लंघन किया और फायरिंग की आड़ में भारतीय जवानों की पेट्रोलिंग टीम के दो जवानों की हत्या कर दी थी। सेना ने बताया था कि इन दोनों भारतीय जवानों के शवों के साथ पाक सेना ने बर्बरता की थी।

You May Also Like

English News