शातिर चोर राजू पहाड़ी की गोली मारकर हत्या

 
लखनऊ ,13 दिसम्बर । वजीरगंज स्थित कारगील पार्क के पास शातिर चोर राजू पहाड़ी को बुलेट सवार दो लोगों ने गोली मार दी। गोली उसकी पीठ पर लगी। मौके पर पहुंची पुलिस ने उसको इलाज के लिए ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया, जहां डाक्टरों ने उसको मृत घोषित कर दिया। पुलिस हत्या के पीछे का कारण व हत्यारों की तलाश में जुट गयी है। 
 
शातिर चोर राजू पहाड़ी की गोली मारकर हत्या

झोपड़ी में लगी आग, चार लोग जिंदा जले मरने वालों में सभी एक ही परिवार के 

सीओ चौक राधेश्याम राय ने बताया कि मडिय़ांव के डूडौली निवासी 37 वर्षीय राजू पहाड़ी अपने परिवार के साथ रहता था। मौजूद समय में वह पारा इलाके में किराये के मकान में रह रहा था। बताया जाता है कि सोमवार की शाम वह बाइक से वजीरगंज इलाके से जा रहा था। कारगील पार्क के पास राजू पेशाब करने के लिए एक शुलभ शौचालय के पास रूका। इस बीच वहां बुलेट सवार दो युवक पहुंचे। राजू जैसे ही शौचालय से बाहर निकलते बुलेट सवार दो युवकों ने उसको पकड़ लिया। इसके बाद उन लोगों के बीच हाथापाई होने लगी। इस बीच एक युवक ने उसको पीछे से पकड़ लिया,जबकि दूसरे ने उसको गोली मार दी। गोली राजू की पीठ पर लगी और वह लहूलुहान होकर वहीं गिर पड़ा। अचानक हुई इस घटना से वहां अफरा-तफरी मच गयी। आसपास के लोग जैसे ही मदद के लिए दौड़े आरोपी युवक बुलट स्टार्ट कर वहां से भाग निकले। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर वजीरगंज पुलिस भी पहुंच गयी। पुलिस ने आनन-फानन में राजू को इलाज के लिए ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया, जहां डाक्टरों ने उसको मृत घोषित कर दिया। घटना के वक्त पुलिस के अधिकारी टीले वाली मस्जिद में मौजूद मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के कार्यक्रम में लगे थे। अधिकारियों को जैसे ही हत्या की सूचना मिली फौरन सीओ चौक व एसपी पश्चिम जयप्रकाश यादव ट्रामा सेंटर पहुंच गये। राजू पहाड़ी की हत्या की खबर मिलते ही परिवार के लोग भी ट्रामा सेंटर पहुंच गये। फिलहाल परिवार वालों ने किसी पर कोई आरोप नहीं लगाया है। मौके पर पहुंची पुलिस को छानबीन के दौरान घटनास्थल के पास एक 12 बोर का खोखा मिला है। पुलिस ने खोखे को अपने कब्जे में ले लिया है। सीओ चौक ने बताया कि इस मामले में पुलिस सभी पहलुओं पर छानबीन कर रही है। 

 
3 मार्च को पुलिस ने राजू व उसके साथियों को पकड़ा था
मडिय़ांव निवासी राजू पहाड़ी पेशेवर चोर है। वह अपना पूरा गैंग बनाकर बंद घरों में चोरी की वारदातों को अंजाम देता था। बीते 3 मार्च को सआदतगंज पुलिस ने राजू पहाड़ी को उसके 5 साथियों के साथ गिरफ्तार किया था। पुलिस ने उसके पास चोरी का माल बरामद किया था। 
 
चंद रोज पहले ही जेल से आया था बाहर 
शातिर चोर राजू पहाड़ी के खिलाफ राजधानी के कई थानों में आपराधिक मामले दर्ज हैं। उसके खिलाफ पुलिस गैंगस्टर एक्ट की भी कार्रवाई कर चुकी है। सीओ चौक ने बताया कि राजू पहाड़ी हाल में ही जेल से बाहर आया था। 
 
बंद घरों में चोरी करने का था एक्सपर्ट 
राजू पहाड़ी व उसके गैंग का नाम आते ही पुलिस के हाथ-पैर फूल जाते थे। राजधानी में राजू पहाड़ी ही एक ऐसा अपराधि था जिसने चोरों का एक संगठित गैंग बना रखा था। वह दिन में बंद घरों की रेकी करके रात में बड़ी आराम से वारदात को अंजाम देता था और पुलिस को भनक तक नहीं लग पाती थी। पुलिस के सूत्र बताते हैं कि राजू पहाड़ी बंद घरों में चोरी करने का इतना एक्सपर्ट था कि मिनटों में वह वारदात को अंजाम देकर निकल जाया करता था।
 
पीछा करके राजू को मारी गयी गोली 
राजू पहाड़ी की हत्या के मामले में छानबीन कर रही वजीरगंज पुलिस का मानना है कि ऐसा लग रहा है कि बुलेट सवार बदमाश राजू का काफी देर से पीछ कर रहे थे। राजू पहाड़ी कारगील पार्क के पास जैसे ही पेशाब करने के लिए रूका बुलेट सवार लोगों को वारदात को अंजाम देने का मौका मिल गया। 
 

नाले में मिला युवक का शव चार से पांच दिन पुराना था शव

आपसी रंजिश व रुपये का विवाद हो सकती है हत्या की वजह

राजू पहाड़ी की हत्या के मामले में छानबीन कर रही पुलिस का मानना है कि राजू के खिलाफ एक दर्जन से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं। इस बात की संभावन है कि आपसी रंजिश और रुपये के विवाद में राजू की हत्या की जा सकती है। पुलिस इस मामले में सर्विलांस की मदद से राजू के मोबाइल की डीटेल व घटनास्थल के पास लगे मोबाइल टावर की मदद से नम्बरों को खंगाल रही है। 
 
प्रेमिका भी हो सकती है कि हत्या की वजह
राजू पहाड़ी का सआदतगंज इलाके में रहने वाले एक हिस्ट्रीशीटर की पत्नी से संबंध थे। हिस्ट्रीशीटर के जेल में रहते हुए उसके पत्नी के संबंध राजू से हो गये थे। सआदतगंज पुलिस ने राजू पहाड़ी को उसकी प्रेमिका से नजदीकियों की वजह से ही पकड़ा था। राजू की हत्या के मामले में पुलिस इस बिंदू को भी लेकर छानबीन कर रही है।  
 
 
 
 

You May Also Like

English News