शिखर धवन को पता नहीं था, पहले सत्र में भारतीय शतक लगा था कि नहीं

अफगानिस्तान के खिलाफ खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के पहले दिन गुरुवार को पहले सत्र में शतक लगाने वाले भारत के सलामी बल्लेबाज शिखर शिखर धवन ने कहा कि उनके लिए यह शानदार अनुभव था. इस शतक को लगाने के बाद  शिखर पहले सत्र में शतक लगाने वाले पहले भारतीय बन गए थे. यह अफगानिस्तान का पहला अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैच है. भारत के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी और धवन ने पहले सत्र में ही शतक लगा दिया. वे भोजनकाल तक 104 रनों पर नाबाद लौटे थे.

मैच में धवन ने 96 गेंदें खेली और 107 रन बनाकर दूसरे सत्र में आउट हुए. धवन ने अपनी पारी में 19 चौके और तीन छक्के मारे. मैच के बाद धवन ने कहा, “एक सत्र में शतक लगाना मेरे लिए बड़ी बात है. मैं नहीं जानता कि किसी भारतीय बल्लेबाज ने ऐसा किया है या नहीं.”

32 साल के बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज ने कहा, “मैं अच्छी मानसिकता के साथ मैदान में गया था. मैं जानता था कि मुझे क्या करना है और चीजें मेरी तरह ही हुईं. आईपीएल और इस मैच के बीच मैं अपनी फिटनेस पर ध्यान दे रहा था. इस दौरान ज्यादा बल्लेबाजी नहीं की थी.” धवन के जोड़ीदार मुरली विजय ने भी इस मैच में शानदार बल्लेबाजी करते हुए शतक जमाया. दोनों ने पहले विकेट के लिए 168 रनों की साझेदारी की. 

उल्लेखनीय है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर किसी भी टेस्ट मैच की पहली पारी के पहले सत्र में शतक लगाने वाले धवन छठे बल्लेबाज हैं. इससे पहले ऑस्ट्रेलिया के विक्टर ट्रंपर, चार्ली मैकार्टनी, डॉन ब्रैडमैन और डेविड वॉर्नर के अलावा पाकिस्तान के मजीद खान पहले सत्र में शतक लगा चुके हैं. 

ऑस्ट्रेलिया के ट्रंपर ने साल 1902 में मैनचेस्टर में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए टेस्ट मैच में पहले सत्र में 103 रन बनाते हुए शतक लगाया था. इसके अलावा 1926 में ऑस्ट्रेलिया के ही बल्लेबाज मैकार्टनी ने इंग्लैंड के ही खिलाफ यह कारनामा किया था. उन्होंने 112 रन बनाए थे. ऑस्ट्रेलिया के ही एक अन्य बल्लेबाज ब्रैडमैन ने इंग्लैंड के ही खिलाफ 1930 में लीड्स मैदान पर खेले गए टेस्ट मैच में पहले सत्र में 105 रनों की शतकीय पारी खेलकर यह उपलब्धि हासिल की थी. इसके बाद पाकिस्तान के मजीद ने 1976-77 में कराची के स्टेडियम में न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट मैच के पहले सत्र में 108 रन बनाकर शतकीय पारी खेली थी. ऑस्ट्रेलिया के डेविन वॉर्नर ने इस क्रम में पांचवां स्थान हासिल किया है. उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ 2016-17 में सिडनी में खेले गए टेस्ट मैच के पहले सत्र में 100 रन बनाकर यह उपलब्धि अपने नाम की थी. 

बेहतरीन फॉर्म में चल रहा है शिखर का बल्ला
शिखर अभी बेहतरीन फॉर्म में चल रहे हैं. हाल ही में खत्म हुए आईपीएल में शिखर ने 16 मैचों में चार अर्धशतकों के साथ 497 रन बनाए थे. ऑरेंज कैप की दौड़ में वे 10वें स्थान पर रहे थे. शिखर का वनडे रिकॉर्ड भी शानदार रहा है, उन्होंने 102 मैचों की 101 पारियों में 13 शतक और 25 अर्धशतक लगा कर 25.91 के औसत और 93.44 के स्ट्राइक रेट से 4361 रन बनाए हैं.

You May Also Like

English News