शोभा यात्रा निकाले को लेकर दो समुदाय के बीच टकराव, तोडफ़ोड़, पथराव व आगजनी !

जौनपुर: उत्तर प्रदेश के जौनपुर के खेतासराय के सैद गोरारी गांव में शुक्रवार की शाम बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर की शोभा-यात्रा का रास्ता बदलने को लेकर दो समुदाय के बीच टकराव हुआ। दोनों तरफ से जमकर मारपीट, तोडफ़ोड़ व आगजनी की गयी। हालात को काबू में करने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग तक करनी पड़ी। किसी तरह स्थिति को पुलिस ने नियंत्रित किया। एक पक्ष से पेट्रोल बम भी फेंके गए। एक गुमटी को भी आग के हवाले कर दिया गया।

 


जौनपुर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सैदगोरारी गांव के लोग हर साल की तरह बाबा साहेब अम्बेडकर की जयंती पर शोभा यात्रा लेकर भ्रमण कर रहे थे। सड़क पर जाने के लिए गांव में पहुंचे तो ऊचांई होने के कारण गाड़ी व डीजे आगे नहीं बढ़ पा रहा था। इस पर जुलूस का रास्ता बदल दिया गया। रास्ता बदलने का दूसरे वर्ग के लोगों ने विरोध किया तो कहासुनी शुरू हो गई। आरोप है कि विरोध करने वालों ने डीजे चालक व संचालक को पीट दिया। इसे देख जुलूस में चल रहे लोगों का गुस्सा भड़क गया। दोनों तरफ से पथराव शुरू हो गया। एक ओर से पेट्रोल बम तो दूसरी ओर से तमंचे से गोली चलने लगी। कुछ देर बाद ही सीओ रामभवन व एसओ मिथिलेश भी फोर्स के साथ पहुंच गए।

पुलिसबल कम होने के कारण उपद्रवी हावी होने लगे तो अन्य थानों की फोर्स भी बुला ली गई। यह सब हो रहा था कि भीड़ ने चार गुमटी को फूंक दिया। उपद्रव बढ़ता हुआ देख पुलिस ने कई राउंड हवाई फायरिंग करते हुए उपद्रवियों को खदेड़ लिया। दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने किसी तरह हालत पर काबू पाया। मौके पर भारी पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है।

You May Also Like

English News