श्रीनगर मुठभेड़ में एक जवान शहीद, भाग निकले तीनों आतंकी; मददगार गिरफ्तार

जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में स्वंतत्रता दिवस के मौके पर एक बड़े हमले को अंजाम देने आए तीन आतंकी रविवार को बटमालू में हुई भीषण मुठभेड़ के बावजूद सुरक्षाबलों की घेराबंदी तोड़ भाग निकले। इस दौरान राज्य पुलिस विशेष अभियान दल का एक जवान शहीद व तीन अन्य सुरक्षाकर्मी जख्मी हो गए। मुठभेड़ के दौरान आतंकी ठिकाने बने मकान का मालिक भी गोली लगने से जख्मी हो गया। इस बीच पुलिस ने आतंकियों की भगाने में मददगार बने दो ओवरग्राउंड वर्करों को गिरफ्तार कर लिया है।जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में स्वंतत्रता दिवस के मौके पर एक बड़े हमले को अंजाम देने आए तीन आतंकी रविवार को बटमालू में हुई भीषण मुठभेड़ के बावजूद सुरक्षाबलों की घेराबंदी तोड़ भाग निकले। इस दौरान राज्य पुलिस विशेष अभियान दल का एक जवान शहीद व तीन अन्य सुरक्षाकर्मी जख्मी हो गए। मुठभेड़ के दौरान आतंकी ठिकाने बने मकान का मालिक भी गोली लगने से जख्मी हो गया। इस बीच पुलिस ने आतंकियों की भगाने में मददगार बने दो ओवरग्राउंड वर्करों को गिरफ्तार कर लिया है।   मोबाइल-इंटरनेट सेवाएं बहाल शरारती तत्वों द्वारा फैलाई जा रही अफवाहों पर काबू पाने और श्रीनगर में हालात सामान्य बनाए रखने के लिए प्रशासन ने थोड़ी देर के लिए पूरे शहर में मोबाइल- इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी थी। हालांकि अब मोबाइल-इंटरनेट सेवाओं को बहाल कर दिया गया है।   सुरक्षा बल तीन दिन से चला रहे तलाशी अभियान मुठभेड़स्थल नागरिक सचिवालय से करीब दो किलोमीटर की दूरी पर है। इस इलाके में बीते तीन दिनों से सुरक्षाबल आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर लगातार तलाशी अभियान चला रहे थे। जिस मकान में आतंकी छिपे थे,वहीं पास में यूनानी अस्पताल भी है।   J&K में सेना को बड़ी कामयाबी, अनंतनाग मुठभेड़ में चार आतंकी ढेर; एक जवान शहीद यह भी पढ़ें ऐसे शुरू हुई मुठभेड़ रविवार सुबह पांच बजे राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल एसओजी के जवानों ने सीआरपीएफ के जवानों के साथ मिलकर बटमालू के दयारवानी इलाके की घेराबंदी करते हुए तलाशी अभियान चलाया। तलाशी लेते हुए जवानों ने जैसे ही आतंकी ठिकाना बने मकान में दाखिल होने का प्रयास किया, अंदर छिपे आतंकियों ने उन पर फायरिंग शुरू कर दी। जवानों ने भी तुरंत अपनी पोजीशन ली और जवाबी फायरिंग की। इसके बाद वहां शुरू हुई मुठभेड़ के दौरान मकान मालिक नियाज अहमद, एसओजी में कार्यरत एसपीओ परवेज अहमद, एक पुलिस कांस्टेबल और दो सीआरपीएफ कर्मी घायल हो गए। सभी घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां एसपीओ परवेज की मौत हो गई।

मोबाइल-इंटरनेट सेवाएं बहाल
शरारती तत्वों द्वारा फैलाई जा रही अफवाहों पर काबू पाने और श्रीनगर में हालात सामान्य बनाए रखने के लिए प्रशासन ने थोड़ी देर के लिए पूरे शहर में मोबाइल- इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी थी। हालांकि अब मोबाइल-इंटरनेट सेवाओं को बहाल कर दिया गया है। 

सुरक्षा बल तीन दिन से चला रहे तलाशी अभियान
मुठभेड़स्थल नागरिक सचिवालय से करीब दो किलोमीटर की दूरी पर है। इस इलाके में बीते तीन दिनों से सुरक्षाबल आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर लगातार तलाशी अभियान चला रहे थे। जिस मकान में आतंकी छिपे थे,वहीं पास में यूनानी अस्पताल भी है।

ऐसे शुरू हुई मुठभेड़
रविवार सुबह पांच बजे राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल एसओजी के जवानों ने सीआरपीएफ के जवानों के साथ मिलकर बटमालू के दयारवानी इलाके की घेराबंदी करते हुए तलाशी अभियान चलाया। तलाशी लेते हुए जवानों ने जैसे ही आतंकी ठिकाना बने मकान में दाखिल होने का प्रयास किया, अंदर छिपे आतंकियों ने उन पर फायरिंग शुरू कर दी। जवानों ने भी तुरंत अपनी पोजीशन ली और जवाबी फायरिंग की। इसके बाद वहां शुरू हुई मुठभेड़ के दौरान मकान मालिक नियाज अहमद, एसओजी में कार्यरत एसपीओ परवेज अहमद, एक पुलिस कांस्टेबल और दो सीआरपीएफ कर्मी घायल हो गए। सभी घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां एसपीओ परवेज की मौत हो गई।

English News

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com