श्रीलंका बोर्ड ने चांडीमल पर लिया बड़ा फैसला

बॉल टैम्परिंग में फसे श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांडीमल पर  आईसीसी ने के मैच का प्रतिबंध लगाया है. जिसके बाद  श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांडीमल पर श्रीलंका बोर्ड ने भी अपना एक बड़ा फैसला लिया है. श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड अपनी तरफ से कोई प्रतिबंध नहीं लगाएगा. श्रीलंका के क्रिकेट प्रशासकों ने फैसला किया है कि चांडीमल पर उनकी तरफ से अन्य कोई प्रतिबंध नहीं लगाया जाएगा.बॉल टैम्परिंग में फसे श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांडीमल पर  आईसीसी ने के मैच का प्रतिबंध लगाया है. जिसके बाद  श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांडीमल पर श्रीलंका बोर्ड ने भी अपना एक बड़ा फैसला लिया है. श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड अपनी तरफ से कोई प्रतिबंध नहीं लगाएगा. श्रीलंका के क्रिकेट प्रशासकों ने फैसला किया है कि चांडीमल पर उनकी तरफ से अन्य कोई प्रतिबंध नहीं लगाया जाएगा.     तीसरे दिन के खेल में दो घंटे तक मैदान में उतरने से इंकार कर देने के कारण कप्तान दिनेश चांडीमल पर खेल भावना के उल्लंघन का भी आरोप लगा है जिससे उन्हें आईसीसी से और सजा भी दी जा सकती है. बता दें कि श्रीलंका क्रिकेट का प्रभार देख रहे खेल मंत्री फैजर मुस्तफा ने कहा कि वह टीम के खेल में विलंब करने के फैसले से नाराज हैं लेकिन चांडीमल पर आईसीसी की सजा जो दी गई है वह पर्याप्त है.  ज्ञात हो कि आईसीसी ने दिनेश चांडीमल को गेंद से छेड़छाड़ के लिए दोषी करार दिया है लेकिन श्रीलंका क्रिकेट के प्रशासकों का मानना है कि सेंट लूसिया टेस्ट के दौरान गेंद के साथ छेड़छाड़ करने का किसी भी खिलाड़ी का इरादा नहीं था. बता दें कि ऐसे ही मामले में ऑस्ट्रेलिया ने स्मिथ और वार्नर पर एक-एक साल का प्रतिबंध लगा दिया था.

तीसरे दिन के खेल में दो घंटे तक मैदान में उतरने से इंकार कर देने के कारण कप्तान दिनेश चांडीमल पर खेल भावना के उल्लंघन का भी आरोप लगा है जिससे उन्हें आईसीसी से और सजा भी दी जा सकती है. बता दें कि श्रीलंका क्रिकेट का प्रभार देख रहे खेल मंत्री फैजर मुस्तफा ने कहा कि वह टीम के खेल में विलंब करने के फैसले से नाराज हैं लेकिन चांडीमल पर आईसीसी की सजा जो दी गई है वह पर्याप्त है.

ज्ञात हो कि आईसीसी ने दिनेश चांडीमल को गेंद से छेड़छाड़ के लिए दोषी करार दिया है लेकिन श्रीलंका क्रिकेट के प्रशासकों का मानना है कि सेंट लूसिया टेस्ट के दौरान गेंद के साथ छेड़छाड़ करने का किसी भी खिलाड़ी का इरादा नहीं था. बता दें कि ऐसे ही मामले में ऑस्ट्रेलिया ने स्मिथ और वार्नर पर एक-एक साल का प्रतिबंध लगा दिया था.

You May Also Like

English News