संयुक्‍त राष्‍ट्र के प्रतिबंधों से बेखौफ उत्तर कोरिया

उत्तर कोरिया अपने मिसाइल परीक्षण कार्यक्रम के चलते दुनिया के सभी बड़े देशो से बगावत कर चूका हैं. संयुक्‍त राष्‍ट्र द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों का भी उसके तेवरों पर खास असर नहीं पड़ा हैं. हालांकि इन सभी के बीच उत्तर और दक्षिण के बीच रिश्‍ते सामान्‍य होते नज़र आ रहे हैं. एक रिपोर्ट का दावा है कि तमाम प्रतिबंधों के बावजूद उत्तर कोरिया के कोयले को रूस के जरिये जापान और दक्षिण कोरिया भेजा गया है.संयुक्‍त राष्‍ट्र के प्रतिबंधों से बेखौफ उत्तर कोरिया

आपको बता दें कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने उत्तर कोरिया से किए जाने वाले कोयला निर्यात पर पिछले साल 5 अगस्त से प्रतिबंध लगा दिया था,,ऐसा इसलिए किया गया कि वह कोयला निर्यात कर विदेशी मुद्रा न जुटा सके, जिससे उसका न्‍यूक्लियर प्रोग्राम चलता है. माना जाता है कि कोयला निर्यात से प्राप्त धनराशि का इस्तेमाल उत्तर कोरिया अपने मिसाइल परीक्षण कार्यक्रम के लिए करता रहा है. रिपोर्ट में कहा गया हैं कि पिछले साल उत्तर कोरिया ने बड़ी मात्रा में रूस को कोयला निर्यात किया.

निर्यात किए गए इस कोयले को बाद में दक्षिण कोरिया और जापान भेजा गया, जो सीधे तौर पर संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों का उल्लंघन हैं. इस रिपोर्ट में दावा किया है कि उत्तर कोरिया प्रतिबंधों के बावजूद अब तक तीन बार कोयला रूस के बंदरगाहों को भेज चुका है. सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि वहां से इस कोयले को जहाजों में लादकर दक्षिण कोरिया और जापान भेजा गया.

You May Also Like

English News