संसदीय चुनाव में फ्रांस ने एक बार फिर लगाई राष्ट्रपति मैक्रों के फेवरेट होने पर मुहर!

पेरिस: फ्रांस में दूसरे दौर के संसदीय चुनाव के बाद राष्ट्रपति इमैन्युएल मैक्रों की पार्टी ने निर्णायक जीत हासिल कर ली है. फ्रांस के आंतरिक मंत्रालय की घोषणा के अनुसार, बीते रविवार रात को 97% वोटों की गिनती हो चुकी थी, जिसमें मैक्रों की पार्टी ला रिपब्लिक एन मार्शे (एलआरईएम) ने 577 संसदीय नेशनल एसेंबली में 300 सीटें जीती हैं. सीएनएन के मुताबिक, रविवार को ही हुए मतदान में एलआरईएम की गठबंधन साझीदार मध्यमार्गी मोडेम पार्टी को 41 सीटों पर जीत मिलीं.

अभी अभी: सलमान की इस बड़ी हीरोइन को हुई गंभीर बीमारी…

संसदीय चुनाव में फ्रांस ने एक बार फिर लगाई राष्ट्रपति मैक्रों के फेवरेट होने पर मुहर!

देश में हाल ही में हुए राष्ट्रपति चुनाव में मैक्रों की विपक्षी रहीं धुर दक्षिणपंथी मरीन ली पेन की पार्टी नेशनल फ्रंट (एफएन) को केवल आठ सीटों पर जीत मिली है. बीबीसी के मुताबिक, मरीन ने पहली बार संसदीय सीट जीती है. वे हेनिन-बीउमोंट का प्रतिनिधित्व करेंगी. देश में पिछले पांच सालों से सत्तारूढ़ कंजरवेटिव पार्टी को केवल 41-49 सीटों पर जीत मिलती दिख रही है.

पीएम मोदी और ट्रम्प मिलकर करना चाहते हैं ये बड़ा काम, जानकर आप भी हो जायेंगे खुश…

मैक्रों ने करीब सालभर पहले ही एक कैंपेन लॉन्च किया था. पार्टी ने 11 जून को हुआ पहले दौर का चुनाव भी जीता है, जिसमें योग्य मतदाताओं के आधी संख्या से भी कम लोगों ने मतदान किया था. सीएनएन के मुताबिक, रविवार को हुए चुनाव में एक बार फिर वोट प्रतिशत कम रहा. इस दौरान वोट प्रतिशत 35% से कुछ ही ज्यादा रहा.

अभी-अभी: PAK पर बिगड़ा ट्रंप का मूड, बना रहे हैं PAK के खिलाफ ये बड़ा प्लान…

मैक्रों ने पिछले महीने मुख्यधारा की किसी भी पार्टी के समर्थन के बगैर ही राष्ट्रपति चुनाव जीत लिया था. एलआरईएम पार्टी की अंतरिम नेता कैथरीन बारबारॉक्स ने कहा कि पार्टी अब देश में बदलाव लाने की दिशा में काम कर सकती है. फ्रांस के बीएफएमटीवी के मुताबिक, रविवार को हुए चुनाव में 1,000 से अधिक उम्मीदवारों ने हिस्सा लिया था. 

You May Also Like

English News