सऊदी अरब का ऐतिहासिक फैसला, महिलाओं की ड्राइविंग पर बैन हटा

सऊदी अरब ने कल यानी शनिवार को एक ऐतिहासिक फैसले के तहत लड़कियों को दिया है सबसे बड़ा तोहफा जिसके लिए वहां की लड़कियां लम्बे समय से संघर्ष कर रही थी. सऊदी अरब की सरकार ने लम्बे समय बाद लड़कियों को गाड़ी चलाने पर लगे प्रतिबंध को अब हटा लिया है, इस फैसले के साथ ही सऊदी अरब दुनिया का आखिरी देश बन गया है जिसने इस प्रतिबंध को हटाया है. बता दें, क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के इस फैसले के बाद माना जा रहा है कि उन्होंने यह फैसला 2030 के सऊदी अरब विजन के नजरिए से लिया गया है. सऊदी अरब के प्रिन्स का मानना है कि अब समाज को और खोलना जरुरी है. हालाँकि प्रिंस ने इस फैसले को 2017 में ही पारित कर दिया था लेकिन इसे पूर्ण रूप से लागू करने में समय लग गया. सऊदी अरब की रहने वाली रेमा जवदात ने इस बारे में कहा है कि लम्बे समय का मेरा एक सपना अब पूरा होने जा रहा है, अब मैं आजादी के साथ कहीं भी घूम सकती हूँ.

बता दें, सऊदी अरब अब तक दुनिया का एकमात्र ऐसा देश था, जहाँ पर महिलाओं को गाड़ी चलाने का हक नहीं था, यहाँ पर महिलाऐं ड्राइविंग लाइसेंस नहीं बनवा सकती थी, लेकिन अब सरकार के इस फैसले के बाद सऊदी अरब में आधी रात को महिलाओं ने अपनी इस आजादी का खुलकर जश्न मनाया. 

बता दें, क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के इस फैसले के बाद माना जा रहा है कि उन्होंने यह फैसला 2030 के सऊदी अरब विजन के नजरिए से लिया गया है. सऊदी अरब के प्रिन्स का मानना है कि अब समाज को और खोलना जरुरी है. हालाँकि प्रिंस ने इस फैसले को 2017 में ही पारित कर दिया था लेकिन इसे पूर्ण रूप से लागू करने में समय लग गया. सऊदी अरब की रहने वाली रेमा जवदात ने इस बारे में कहा है कि लम्बे समय का मेरा एक सपना अब पूरा होने जा रहा है, अब मैं आजादी के साथ कहीं भी घूम सकती हूँ. 

 

You May Also Like

English News