सऊदी अरब की सरकार क्यों हुई इस सर्कस से खिलाफ?

सऊदी अरब अपने सख्त कानूनों के लिए सारी दुनिया में जाना जाता है. अब इन्ही कानूनों के चलते सर्कस की लड़कियों के बदन से चिपके हुए कपडे़ पहनने को लेकर सऊदी अरब ने देश के मनोरंजन प्रमुख को पद से बेदखल कर दिया है. इस बात को लेकर देश के रूढ़िवादियों ने कई तरह से सरकार और नियमों की आलोचना शुरू कर दी थी.सऊदी अरब अपने सख्त कानूनों के लिए सारी दुनिया में जाना जाता है. अब इन्ही कानूनों के चलते सर्कस की लड़कियों के बदन से चिपके हुए कपडे़ पहनने को लेकर सऊदी अरब ने देश के मनोरंजन प्रमुख को पद से बेदखल कर दिया है. इस बात को लेकर देश के रूढ़िवादियों ने कई तरह से सरकार और नियमों की आलोचना शुरू कर दी थी.  सरकारी ‘सऊदी प्रेस एजेंसी’ ने शाही फरमान का हवाला देते हुए ट्वीट किया है, ‘सऊदी जनरल एंटरटेनमेंट अथॉरिटी के अध्यक्ष अहमद अल-खातिब को उनके पद से बर्खास्त किया गया है.’ एजेंसी ने इसका कोई कारण नहीं बताया है. समाचार वेबसाइट ‘सबक’ के अनुसार, रियाद में सर्कस के विवादित शो में महिलाओं के ‘असभ्य’ कपड़े पहनने को लेकर खातिब को पद से हटाया गया है. ये एजेंसी सरकार का समर्थन करने के लिए जानी जाती है.   महिला सर्कसकर्मी गुलाबी रंग के बदन से चिपके हुए कपड़ों में वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए जिसका रूढ़िवादी संघठनो ने और लोगों ने निजी तौर पर विरोध कर आलोचना की थी. ट्विटर पर #NakedRussianWomenInRiyadh हैशटैग के साथ इस सर्कस के खिलाफ ट्वीट वार छेड़ दिया गया था.

सरकारी ‘सऊदी प्रेस एजेंसी’ ने शाही फरमान का हवाला देते हुए ट्वीट किया है, ‘सऊदी जनरल एंटरटेनमेंट अथॉरिटी के अध्यक्ष अहमद अल-खातिब को उनके पद से बर्खास्त किया गया है.’ एजेंसी ने इसका कोई कारण नहीं बताया है. समाचार वेबसाइट ‘सबक’ के अनुसार, रियाद में सर्कस के विवादित शो में महिलाओं के ‘असभ्य’ कपड़े पहनने को लेकर खातिब को पद से हटाया गया है. ये एजेंसी सरकार का समर्थन करने के लिए जानी जाती है. 

महिला सर्कसकर्मी गुलाबी रंग के बदन से चिपके हुए कपड़ों में वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए जिसका रूढ़िवादी संघठनो ने और लोगों ने निजी तौर पर विरोध कर आलोचना की थी. ट्विटर पर #NakedRussianWomenInRiyadh हैशटैग के साथ इस सर्कस के खिलाफ ट्वीट वार छेड़ दिया गया था.

You May Also Like

English News