सनी लिअोनी ने पॉर्न इंडस्‍ट्री को बताया बॉलीवुड से बेहतर

ऐसा माना जाता है कि बॉलीवुड में महिलाओं से ज्‍यादा पुरुषों को ज्‍यादा तवज्‍जो दी जाती है और महिलाओं को उपभोग की वस्‍तु माना जाता है। पॉर्न फिल्‍मों से बॉलीवुड का रुख करने वालीं सनी लिअोनी बॉलीवुड में महिलाओं को ऑब्‍जेक्टिफाई करने या उपभोग की वस्‍तु की तरह दिखाने को लेकर अलग विचार रखती हैं।हाल ही में बीबीसी को दिए इंटरव्‍यू में सनी ने

Big Boss 10 कंटेस्टेंट मोनालिसा का सेक्स वीडियो लीक, हिल गया बॉलीवुड

सनी लिअोनी ने पॉर्न इंडस्‍ट्री को बताया बॉलीवुड से बेहतर

जानिए? कटरीना कैफ मैरिटल रेप को लेकर क्या सोचती हैं

कहा ‘मुझे नहीं लगता कि भारतीय फिल्‍म इंडस्‍ट्री में पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को ज्‍यादा उपभोग की वस्‍तु माना जाता है। मैं तो पुरुषों को ही हमेशा उपभोग की चीज मानती रही हूं(हंसते हुए)। वैसे मैं ऑब्‍जेक्टिफिकेशन शब्‍द को गलत नहीं मानती हूं। मेरा मानना है कि हम एक्‍टर्स ब्रांड हैं और हमारे दिखने के तरीके ही हमारे ब्रांड की पहचान हैं। फिर अगर हम ऐसा नहीं करेंगे, तो हमें देखेगा कौन? कई बार फिल्‍म को मेरे नाम को ऊपर रखकर बेचा जाता है। इसमें मुझे कोई बुराई नजर नहीं आती है।’ सनी लियोन ने बॉलीवुड में पांच साल पूरे कर लिए हैं।

सनी ने भारत में अपने करियर की शुरुआत रियलिटी शो ‘बिग बॉस’ से की थी। उन्‍होंने बताया, ‘मेरे पास जब इस शो का ऑफिर आया था, तो मैंने इसके लिए मना कर दिया था। मैं ऐसी इंडस्‍ट्री में कदम नहीं रखना चाहती थी, जहां लोग मुझसे नफरत करते हैं। लेकिन इसके बाद शो के मेकर्स ने मुझे इसकी टीआरपी और इससे जुड़ चुके एक्‍टर्स के बारे में बताया। फिर मैंने सोचा कि अगर मैंने यह ऑफर एक्‍सेप्‍ट नहीं किया तो करियर की सबसे बड़ी गलती करूंगी। इसलिए काफी सोच-विचार के बाद मैंने शो का ऑफर एक्‍सेप्‍ट कर लिया।’सनी कहती हैं कि बॉलीवुड में उन्‍हें हर तरह के लोग मिले हैं। कई लोग उन्‍हें पसंद करते हैं, वो उनकी तारीफ भी करते हैं। इसलिए यह कहना बिल्‍कुल गलत होगा कि सभी लोग उनके साथ काम नहीं करना चाहते हैं। हालांकि सनी मानती हैं कि बॉलीवुड में महिलाओं और पुरुषों के बीच भेदभाव काफी है। सनी बताती हैं कि उन्‍हें पॉर्न फिल्‍म इंडस्‍ट्री में ऐसा देखने को नहीं मिला। वहां कभी उन्‍हें यह महसूस नहीं हुआ कि वह पुरुष अभिनेता से कम हैं।

 

You May Also Like

English News