सपा की ‘साइकिल’ पर चुनाव आयोग का फैसला आज

समाजवादी पार्टी के चुनाव निशान साइकिल पर मचे दंगल पर चुनाव आयोग सोमवार को फैसला दे सकता है। यूपी में पहले चरण के मतदान के लिए 17 जनवरी को अधिसूचना जारी होगी। उससे पहले आयोग को चुनाव निशान पर उठे विवाद को निपटाना होगा। दोनों पक्ष अपने हक में फैसला होने का दावा कर रहे हैं। वहीं साइकिल पर सस्पेंस बरकरार है।
सपा की 'साइकिल' पर चुनाव आयोग का फैसला आज
इस बीच, आयोग के फैसले से ठीक पहले रविवार को मुलायम सिंह और अखिलेश यादव के बीच एक बार फिर सुलह की कोशिशें हुई। मंत्री गायत्री प्रजापति और राज्यसभा सदस्य संजय सेठ ने दोनों नेताओं के बीच बातचीत कराने का प्रयास किया। इसके लिए वे दोनों नेताओं से दो-दो बार मिले लेकिन कामयाबी नहीं मिली।

चुनाव निशान को फ्रीज कर सकता है आयोग

चुनाव आयोग के पुराने आदेशों को देखें तो वह विवादित चुनाव निशान को फ्रीज करता है। अंतिम फैसला आने तक अंतरिम तौर पर दोनों गुटों को नाम और निशान जारी किया जाता है। उसके बाद आयोग आगे की सुनवाई जारी रखता है। पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एसवाई कुरैशी भी चुनाव निशान फ्रीज होने की संभावना जता चुके हैं। 
उनके मुताबिक इस तरह के मामलों के लिए एक तय प्रक्रिया होती है और इसे पूरा होने में पांच से छह महीने लगते हैं। इसीलिए आयोग दोनों गुटों को चुनाव लड़ने के लिए अस्थायी तौर पर नाम और निशान जारी करता है।
 

You May Also Like

English News