समाजवादी पार्टी में कलह थमती नहीं दिख रही, कार्यकारिणी बैठक में नहीं जाएंगे अखिलेश!

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अगले साल चुनाव होने को हैं और राज्य की सत्ताधारी समाजवादी पार्टी में कलह थमती नहीं दिख रही है। सोमवार को पार्टी के इस ऐलान के बाद कि अखिलेश यादव ही मुख्यमंत्री पद का चेहरा होंगे, लगा कि पारिवारिक कलह अब शांत हो चुकी है। लेकिन अब जो खबर आ रही है उसके मुताबिक सीएम अखिलेश यादव अब भी नाराज बताए जा रहे हैं।akhilesh_ge_260916

सूत्रों के मुताबिक 22 अक्टूबर को लखनऊ में होने वाली समाजवादी पार्टी की राज्य कार्यकरिणी की बैठक सीएम अखिलेश नहीं जाएंगे।  करीबियों को प्रदेश टीम से निकाले जाने और खुद को विशेष आमंत्रित सदस्य भी नहीं बनाए जाने से अखिलेश नाराज हैं। उत्तर प्रदेश में अगले साल चुनाव होने को हैं और राज्य की सत्ताधारी समाजवादी पार्टी में कलह थमती नहीं दिख रही है।

 इससे पहले मंगलवार को टीम अखिलेश पहले ही सपा के स्थापना दिवस के रजत जयंती समारोह के बायकॉट का ऐलान कर चुकी है। खबरों के मुताबिक रामगोपाल यादव ने भी इस समारोह में फिलहाल नहीं आने का मन बनाया है, जबकि मुख्यमंत्री अखिलेश की तरफ से इस समारोह में आने को लेकर संशय बना हुआ है। अखिलेश गुट के सभी नेता इसमें तब तक नहीं जाएंगे, जब तक खुद अखिलेश यादव की तरफ से उन्हे हरी झंडी नहीं मिलेगी।
बता दें कि सोमवार को पार्टी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ये ऐलान किया था कि अखिलेश यादव ही मुख्यमंत्री पद का चेहरा होंगे। 5 नवंबर को पार्टी के रजत जयंती और स्थापना दिवस के दिन एक बड़े कार्यक्रम में खुद मुलायम सिंह न सिर्फ इसका ऐलान करेंगे बल्कि अपनी संदेश यात्रा को भी हरी झंडी दिखाएंगे।

You May Also Like

English News