सरकार की सख्ती से पूरा हुआ वसूली का लक्ष्य

देश में कई लोग ऐसे हैं जो इस देश से कमाते तो हैं , लेकिन कर का भुगतान करने से बचने का की कोशिश करते हैं . ऐसे ही लोगों को पकड़ने के लिए सरकार ने एक अभियान चलाया जिसके अच्छे नतीजे सामने आए और सरकार ने 1.7 करोड़ रुपये की अतिरिक्त राशि जुटा ली. इस कारण केंद्र सरकार ने दिसंबर तक 26,500 करोड़ रुपये की वसूली का लक्ष्य भी पूरा कर लिया.सरकार की सख्ती से पूरा हुआ वसूली का लक्ष्य

बता दें कि इस बारे में संसद में एक लिखित जवाब में जानकारी देते हुए केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने शुक्रवार को बताया कि पिछले कुछ सालों से कर विभाग ऐसे लोगों पर नजर रख रहा है जो पर्याप्त टैक्स अदा नहीं करते हैं. इस कर चोरी को पकड़ने के लिए आंतरिक माध्यमों से ली गई जानकारी का मिलान जब बाहरी एजेंसियों द्वारा प्राप्त आंकड़ों में बड़ी रकम का लेन-देन , टीडीएस, टीसीएस माध्यमों द्वारा मिले डेटा से किया गया तो यह खुलासा हुआ.

उल्लेखनीय है कि पैन कार्ड को 2 लाख रुपये से ऊपर के लेनदेन पर जरूरी किये जाने के बाद जब इसके आंकड़ों की खोज की गई तो पिछले वर्ष 35 लाख ऐसे लोग सामने आए जो टैक्स नहीं भरते थे. इस प्रयास के जरिये 1.25 करोड़ नए कर दाताओं को जोड़ना भी एक लक्ष्य था. रिटर्न न फाइल करने वालों की पहचान करने के बाद उन्हें एसएमएस और ई-मेल भेज कर रिटर्न फाइल करने को कहा गया है. इस मामले में नियमानुसार आगे की प्रक्रिया अपनाई जा रही है.इसके लिए एक सेल भी गठित किया गया है.

You May Also Like

English News