सरकार ने महिलाओं के लिए लॉन्च किया सैनिटरी नैपकीन, एक पैड की कीमत सिर्फ 2.50 रुपये

अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर केंद्र सरकार ने देश की महिलाओं के हितों का ख्याल रखते हुए बड़ा कदम उठाया। सरकार ने 2.50 रूपये के दर पर महिलाओं को सैनिटरी नैपकीन मुहैया कराने का ऐलान किया है। सरकार ने महिलाओं के लिए लॉन्च किया सैनिटरी नैपकीन, एक पैड की कीमत सिर्फ 2.50 रुपयेकेंद्रीय उर्वरक एवं रसायन मंत्री अनंत कुमार ने सुविधा योजना का ऐलान करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री जनऔषधी परियोजना (पीएमबीजेपी) के तहत 100 प्रतिशत बॉयोडीग्रेब्ल सैनिटरी नैपकीन मुहैया कराई जाएंगी। उन्होंने बताया कि कम कीमत में देश के सभी जनऔषधी केंद्रों पर यह सैनिटरी नैपकीन बिक्री के लिए उपलब्ध रहेंगी।

अनंत कुमार के अनुसार इस नैपकीन की कीमत मात्र 2.50 रूपये तय किया गया है। यानी मात्र 2.50 रूपये में महिलायें जनऔषधी केंद्रों से सैनिटरी नैपकीन खरीद सकेंगी। 

महिला दिवस पर सरकार का तोहफा 

विश्व महिला दिवस के अवसर पर भारत की महिलाओं को तोहफा देते हुए अनंत कुमार ने बताया कि 28 मई, 2018 को अंतर्राष्ट्रीय मासिक धर्म स्वच्छता दिवस से देश के सभी जन-औषधि केंद्रों पर सुविधा नैपकीन बिक्री के लिए उपलब्ध रहेगा। उन्होंने बताया स्वच्छ सैनिटरी नैपकीन के अभाव में देश की अधिकांश महिलाओं को तमाम बीमारियों के संक्रमण का शिकार होना पड़ता है।

नेशनल फेमिली हेल्थ सर्वे (एनएफएचएस) 2015-16 के रिपोर्ट के अनुसार 15 से 24 वर्ष के उम्र की 58 प्रतिशत महिलाएं लोकल एवं कामचलाउ नैपकीन का इस्तेमाल करती हैं। जो कि बिमारी के संक्रमण से उनका बचाव कर पाने में सक्षम नहीं हैं। शहर में भी 74 प्रतिशत महिलाओं को ही हाइजेनिक नैपकीन उपलब्ध हो पाता है।

कुमार के अनुसार देहात में महज 48 प्रतिशत महिलाओं को ही स्वच्छ एवं शुद्ध नैपकीन नसीब हो पाता है। पॉपुलर ब्रांड न होने की वजह से ग्रामीण इलाकों में बेहतर नैपकीन उपलब्ध नहीं हैं। जिसकी वजह से महिलाओं को तमाम तरह की बीमारियों का सामना करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि वंचित महिलाओं के लिए भी सरकार उनकी स्वच्छत्ता, सुविधा और स्वास्थ्य का पूरा ख्याल रखेगी। 

You May Also Like

English News