सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारत का एक और धमाकेदार फैसला,कहा पाकिस्तान…

भारत और पाकिस्तान के बीच  जहां तक कश्मीर की बात है तो यह मुद्दा केवल पीओके और गिलगिट बाल्टिस्तान पर उनके अवैध कब्जे को लेकर है। यह बात बृहस्पतिवार को सरकार ने कही। केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने भारत की मांग को दोहराया कि पाकिस्तान को इन इलाकों को खाली कर देना चाहिए जिन पर उसने अवैध रूप से कब्जा कर रखा है। पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित द्वारा जम्मू-कश्मीर के मुद्दे को ‘कश्मीरियों की आकांक्षा’ के मुताबिक सुलझाने का बयान देने के बाद सिंह का यह बयान आया है। पाकिस्तान के राष्ट्रीय दिवस पर बासित बृहस्पतिवार को यहां उच्चायोग में एक समारोह में बोल रहे थे। 

सिंह ने संसद के बाहर संवाददाताओं से कहा कि आज भारत और पाकिस्तान के बीच अगर कोई मुद्दा है तो यह केवल पाकिस्तान द्वारा अवैध कब्जे का मुद्दा है चाहे यह पाक अधिकृत कश्मीर हो या गिलगिट-बाल्टिस्तान। मंत्री ने कहा, ‘इसे किस तरह से पाकिस्तान के कब्जे से मुक्त कराया जाए और भारतीय गणतंत्र का हिस्सा बनाया जाए और जम्मू-कश्मीर को इसके मूल स्वरूप में बहाल किया जाए, अब केवल यही मुद्दा है।’’ 

सिंह ने कहा कि भारत का रुख कई वर्षों से स्पष्ट रहा है और 1994 में संसद में इस मुद्दे पर एक प्रस्ताव पारित किया गया था जिसका सभी राजनीतिक दलों ने समर्थन किया था। उधर, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने बासित के बयान पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि भारत अपने आंतरिक मामलों में किसी भी तरह का बाहरी हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के लिए बेहतर होगा कि वह अपने यहां से फैल रहे आतंकवाद पर अंकुश लगाने पर ध्यान केंद्रित करे, जिसकी वजह से अन्य देशों के साथ उसके संबंध खराब हो रहे हैं।

You May Also Like

English News