क्या? नोटबंदी की वजह से , भारत आने से कतराने लगे पाकिस्तानी

फिरोजपुर। यह सर्जिकल स्ट्राइक का असर है या फिर नोटबंदी का लेकिन पाकिस्तानी अब भारत आने से कतराने लगे हैं। भारत-पाकिस्तान के मध्य चलने वाली समझौता एक्सप्रेस से भारत आने वाले पाकिस्तानी यात्रियों की संख्या 2015 के मुकाबले 2016 में घट गई है। पाकिस्तान ने मालगाड़ी से भारतीय माल मंगवाना भी आधा कर दिया है। इससे रेलवे की कमाई घट गई है।

क्या? नोटबंदी की वजह से , भारत आने से कतराने लगे पाकिस्तानी

लगातार चार बम धमाकों से दहला अफगानिस्तान, सड़क पर चारो-ओर बिछी लाशें

फिरोजपुर रेलवे मंडल से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार दिसंबर 2015 में 1416 पाकिस्तानी यात्री समझौता एक्सप्रेस से आए, जबकि दिसंबर 2016 में सिर्फ 893 पाक यात्री पहुंचे। इनमें से आधी संख्या जायरीनों की है। पाकिस्तानी व्यापारी भी मालगाड़ी से भारतीय वस्तुएं कम मंगवा रहे हैं, जिससे मालगाड़ी का कारोबार भी घट कर आधा रह गया है। हालांकि थोड़ी सी राहत यह मिली है कि पार्सल के रूप में समझौता एक्सप्रेस से आने-जाने वाला माल बढ़ रहा है।

रेलवे के प्रबंधक अनुज प्रकाश बताते हैं कि 2015 के मुकाबले 2016 के नवंबर व दिसंबर में पाकिस्तानी रेल यात्रियों के साथ ही व्यापार में कमी दर्ज की गई है।

पाक से भारत आने वाले यात्रियों से रेलवे को कमाई

नवंबर 2015- 467985 रुपये

नवंबर 2016- 217191 रुपये

दिसंबर 2015- 358290 रुपये

दिसंबर 2016- 237100 रुपये

भारत से पाक जाने वाले यात्रियों से रेलवे को कमाई

नवंबर 2015- 49290 रुपये

नवंबर 2016- 37290 रुपये

दिसंबर 2015- 4320 रुपये

दिसंबर 2016- 4080 रुपये

पाकिस्तान से भारत आए यात्री

नवंबर 2015 -1898

नवंबर 2016- 884

दिसंबर 2015-1416

दिसंबर 2016- 893

भारत से पाकिस्तान जाने वाले यात्री

नवंबर 2015-1643

नवंबर 2016-1243

दिसंबर 2015-144

दिसंबर 2016-136

भारत से पाकिस्तान को पार्सल भेजने के एवज में रेलवे की कमाई

नवंबर 2015- 911725 रुपये

नवंबर 2016-171585 रुपये

दिसंबर 2015-1049105 रुपये

दिसंबर 2016-1040332 रुपये

पाकिस्तान से भारत पार्सल आने के एवज में रेलवे को कमाई

नवंबर 2015-60146 रुपये

नवंबर 2016-40136 रुपये

दिसंबर 2015-33859 रुपये

दिसंबर 2016-44464 रुपये

पाक को गुड्स भेजने के एवज में कमाई

नवंबर 2015-4214053 रुपये

नवंबर 2016- 2339729 रुपये

दिसंबर 2015- 4147290 रुपये

दिसंबर 2016- 2913984 रुपये

You May Also Like

English News