सर्राफ की दुकान में लूट का खुलासा

  • एक शातिर बदमाश पकड़ा गया
  • लूटे गये जेवरात बरामद, एक बदमाश फरार

imagesलखनऊ: इन्दिरानगर के फरीदीनगर इलाके में गुरुवार को सर्राफ की दुकान में घुसकर लूटपाट व फायरिंग की घटना का खुलासा करते हुए पुलिस ने एक बदमाश को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने पकड़े गये बदमाश के पास से लूटे गये जेवरात भी बरामद किये हैं। वारदात में शामिल एक बदमाश अभी फरार है और पुलिस उसकी तलाश में जुटी है। एसपी टीजी जयप्रकाश ने बताया कि इस वारदात का पूरा सीसीटीवी फुटेज पुलिस को मिला था। फुटेज की मदद से पुलिस ने जब बदमाशों की पहचान करायी तो मुखबिर ने एक बदमाश की पहचान विकासनगर निवासी विजय पंडित के रूप में की। बदमाश की पहचान होने के बाद इन्दिरानगर पुलिस ने शुक्रवार को आरोपी विजय को पिकनिक स्पाट के पास से गिरफ्तार किया गया। पूछताछ की गयी तो आरोपी विजय ने अपने साथी शाहजहांपुर निवासी राहुल सिंह के साथ सर्राफ की दुकान
में घुसकर लूटपाट करने की बात कबूली। पुलिस ने बदमाश विजय पंडित के पास से सर्राफ की दुकान से लूटे गये जेवरात बरामद किये। इन्दिरानगर पुलिस इस वारदात में शामिल बदमाश राहुल सिंह की तलाश में लगी है। एसओ इन्दिरानगर नोवेन्द्र सिंह सिरोही ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी विजय पंडित एक शातिर बदमाश है और उसके पहले से दस आपराधिक मामले दर्ज हैं। ज्ञात हो कि बीते गुरुवार की रात बाइक सवार दो बदमाशों ने फरीदीनगर स्थित रवि कुमार की सर्राफ की दुकान में घुसकर लूटपाट की थी। इस घटना के दौरान बदमाशों ने
दुकान में फायरिंग भी की थी। इत्तिफाक की बात यह रही थी कि फायरिंग में किसी को गोली नहीं लगी थी।

दारू पार्टी करने के लिए की थी लूटपाट

इन्दिरानगर पुलिस के हत्थे चढ़े बदमाश विजय पंडित ने पूछताछ में बताया कि गुरुवार की रात उसने अपने चार दोस्तों को खाने व दारू की पार्टी के लिए बुलाया था। उस वक्त उसके पास सिर्फ 70 रुपये थे। पार्टी करने के लिए उसको रुपये की जरुरत थी। बस अपनी इसी जरुरत को पूरा करने के लिए आरोपी विजय ने अपने साथी राहुल सिंह के साथ सर्राफ की दुकान में घुसकर लूटपाट की। फरार बदमाश राहुल सिंह के पास घटना में प्रयोग की गयी बाइक व पिस्टल मौजूद है। सीओ गाजीपुर दिनेश पुरी ने बताया कि आरोपी पेशेवर बदमाश है। वह अपना खर्च पूरा करने के लिए अपराध करता है। उसने पुलिस को यह भी बताया कि मुकदमों की पेशी व उनकी पैरवी के लिए भी उसका रुपये की आवश्यकता थी। इसको लेकर भी उसने सर्राफ की दुकान में लूटपाट कर रुपये जमा करने की बात सोची थी।

You May Also Like

English News