सहवाग ने गांगुली की बात को नकार कर, शिखर-रोहित को लेकर कही ये बड़ी बात

टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग का कहना है कि शिखर धवन और रोहित शर्मा को सेंचुरियन टेस्ट से ड्रॉप नहीं किया जाना चाहिए। सहवाग ने एक चैनल के साथ बातचीत में इन दोनों बल्लेबाजों का बचाव करते हुए कहा कि ये बल्लेबाज तेजी से रन बनाते हैं और इन्हें दूसरे टेस्ट के प्लेइंग इलेवन में बने रहना चाहिए। सहवाग ने कहा कि सेंचुरियन में टीम इंडिया की जीत के लिए शिखर-रोहित और कप्तान विराट कोहली बेहद अहम होंगे क्योंकि ये तेजी से रन बनाना जानते हैं।

सहवाग ने गांगुली की बात को नकार कर, शिखर-रोहित को लेकर कही ये बड़ी बातमुल्तान के सुल्तान कहे जाने वाले इस पूर्व बल्लेबाज का कहना है कि भारत को 7 बल्लेबाजों और 4 गेंदबाजों के साथ उतरना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘टीम इंडिया अंजिक्य रहाणे के रूप में अतिरिक्त बल्लेबाज के साथ उतर सकता है। उन्हें 4 गेंदबाजों के साथ उतरने की कोशिश करनी चाहिए। यदि टीम इंडिया को जीतना है तो विराट और रोहित को अहम भूमिका निभानी होगी।’

उन्होंने कहा कि अजिंक्य रहाणे को सेंचुरियन में सातवें बल्लेबाज के रूप में मौका दिया जाना चाहिए। अपने समय के दिग्गज बल्लेबाज ने केप टाउन में संघर्ष करने वाले टीम इंडिया के बल्लेबाजों को सलाह देते हुए कहा कि उनको कट और स्टेट ड्राइव का सहारा लेना चाहिए। शार्ट गेंदों को को बिल्कुल नहीं खेलना चाहिए। दक्षिण अफ्रीका में बोल्ड होने का चांस बहुत कम है और बल्लेबाजों को स्टंप के बाहर जाती गेंदों के साथ छेडखानी नहीं करनी चाहिए।

गौरतलब है कि सहवाग से पहले टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली केपटाउन में खेले गए पहले टेस्ट में भारतीय बल्लेबाजों के प्रदर्शन से बेहद खफा थे। खासकर वो ओपनर शिखर धवन और रोहित शर्मा को लेकर नाराज हैं। एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा था कि शिखर धवन और रोहित शर्मा को सेंचुरियन के दूसरे टेस्ट में नहीं रखा जाना चाहिए।

बता दें कि हार से निराश भारतीय फैंस को उम्मीद है कि कोहली की अगुवाई में घर में शानदार प्रदर्शन करने वाली टीम इंडिया सिरीज में न सिर्फ वापसी करेगी बल्कि 25 साल का रिकॉर्ड भी तोड़ेगी यानी 25 साल बाद वह कोई सिरीज दक्षिण अफ्रीका में जीतेगी। 

 

You May Also Like

English News