सहारनपुर हिंसक घटना में शीघ्र मुआवजे का आश्वासन हुआ, देखे

सहारनपुर में महाराणा प्रताप से संबधित शोभायात्रा कार्यक्रम के दौरान ठाकुर और दलितों के मध्य पत्थरबाजी की घटना में एक युवक की मौत के बाद उत्पन्न हुए तनाव के बाद उत्तर प्रदेश के प्रमुख सचिव गृह और डीजीपी रविवार को सहारनपुर के दौरे पर पहुंचे। ये भी पढ़े: भारत के रुख के सामने नरम पड़ा गया चीन, बदल सकता है CPEC का नाम

सहारनपुर के प्रमुख सचिव गृह और डीजीपी ने विभिन्न राजनीतिक दलों के जनप्रनिधियों से बातचीत की। उन्होंने राजनैतिक दलों एवं जनप्रतिनिधियों को ग्राम सड़क दूधली, थाना क्षेत्र जनकपुरी एवं ग्राम शब्बीरपुर थाना क्षेत्र बड़गांव में हुए घटनाक्रम के बारे में आश्वस्त किया कि इन दोनों घटनाओं में निष्पक्ष कार्यवाही होगी। किसी भी निर्दोष व्यक्ति के विरूद्ध कार्यवाही नहीं की जायेगी।

प्रमुख सचिव गृह देवाशीष पाण्डा ने कहा कि जिस किसी का भी नुकसान हुआ उनका चिन्हांकन कर जिला मजिस्ट्रेट, सहारनपुर द्वारा शासन को रिपोर्ट दी गई है जिसके आधार पर शीघ्र ही मुआवजा दिलाने की कार्यवाही की जाएगी।

उन्हांेने स्पष्ट किया कि कानून का राज स्थापित होगा किसी को भी कानून को अपने हाथ में लेने की इजाजत नहीं दी जाएगी। जनपद स्तर पर जो आयोजन परम्परागत रूप से होते आए हैं, उनकी समयावधि में जिला प्रशासन से अनुमति प्राप्त कर शान्तिपूर्वक अपने-अपने पर्वो को मनाया जाए।

प्रमुख सचिव और डीजीपी द्वारा सहारनपुर मंडल के प्रशासनिक/पुलिस अधिकारियों के साथ कानून-व्यवस्था के सम्बन्ध में मंडलीय समीक्षा गोष्ठी में उपस्थित अधिकारियों को स्पष्ट रूप से कानून का राज स्थापित करते हुए आपसी भाईचारा कायम करने के लिए जिला मजिस्ट्रेट सहारनपुर द्वारा की जा रही पहल को सकारात्मक रूप दिए जाने के कड़े निर्देश दिए गए।

आगामी निकाय चुनाव को देखते हुए भविष्य में इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति पुन: न होने पाए तथा जनपद की घटनाओं में दोषी व्यक्तियों के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।

You May Also Like

English News