फूट-फूटकर रोए SP कार्यकर्ता, बोले- बचा लो साइकिल का निशान

नई दिल्ली: SP में फूट तय लगभग तय है। चुनाव आयोग के फैसले से पहले ही पार्टी कार्यकर्ताओं का रो-रोकर बुरा हाल है। फूट-फूटकर रोए SP कार्यकर्ता, बोले- बचा लो साइकिल का निशान

फूट-फूटकर रोए SP कार्यकर्ता, बोले- बचा लो साइकिल का निशान
 
मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव की ओर से पार्टी के सिंबल पर दावा करते हुए अलग-अलग याचिका दायर की गई है। आयोग दोनों पक्षों को सुन चुका है। इस बीच, मुलायम सोमवार की सुबह पार्टी कार्यकर्ताओं से मिले। कुछ कार्यकर्ता रोते हुए बोले- नेताजी पार्टी बचा लीजिए। इस पर मुलायम ने कहा- मैंने बहुत कोशिश की, अखिलेश मेरी नहीं सुनते।
 
मुलायम ने कहा कि मैंने अपनी तरफ से हर कोशिश की। अपना पक्ष रख दिया है। अब 4 बजे के पहले चुनाव आयोग का फैसला आएगा। मैंने कई कोशिशे की है 3 बार अखिलेश को बुलाया लेकिन मुझे बिना सुने उठकर चला गया। चुनाव आयोग जो फैसला करेगा स्वीकार होगा, आप लोग मेरा साथ देंगे। कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुलायम ने कहा कि मेरा बेटा दूसरे के हाथों में खेल रहा है, राम गोपाल के इशारे पर काम कर रहा है। आप से अपील है की आप मेरा साथ दें। जनता के बीच संदेश गया हैं कि अखिलेश मुसलमान विरोधी है, उनके प्रत्याशियों की सूची में मुस्लमान कम है।

यूपी में चुनाव के पहले नारों के हथियारों से जंग जारी, कांग्रेस पिछड़ी

मुलायम ने कहा कि अखिलेश को कई बार बुलाया लेकिन नहीं आए, जब बीबी बच्चों की कसम दी तो मिलने आया और एक मिनट मिलकर चला गया। रामगोपाल ने पार्टी को बर्बाद करने में कोई कसर नही छोड़ी सिम्बल पर फैसला आज आएगा।

You May Also Like

English News