साइटिका यानि कमर और पैरों के दर्द से परेशान हैं तो अपनाएं ये नुस्खे

जीवनशैली में बदलाव

साइटिका के दर्द से बचाव के लिए आपको इन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। घर, ऑफिस या किसी भी जगह पर बहुत देर तक नहीं बैठना चाहिए बल्कि हर आधेृ घंटे में कुर्सी से उठकर थोड़ी चहलकदमी जरूरी है। इसके अलावा अपनी पीठ पर झुककर बहुत भारी सामान नहीं उठाना चाहिए। अगर आपको कुर्सी पर देर तक बैठना पड़ता है तो कमर के पास एक तकिया लगा सकते हैं। इसके अलावा अपने खान-पान पर ध्यान दें और सर्दियों में पर्याप्त गर्म कपड़े पहनें और रोज थोड़ी देर बॉडी जरूर स्ट्रेच करें।साइटिका यानि कमर और पैरों के दर्द से परेशान हैं तो अपनाएं ये नुस्खे

व्यायाम

साइटिका का दर्द चूंकि नसों के खिंचाव या उनमें सूजन की वजह से होता है इसलिए व्यायाम इसे ठीक करने के लिए सबसे अच्छा उपाय है। इसके लिए आप ऐसे व्यायाम कर सकते हैं जिनमें कमर के आसपास की नसों पर खिंचाव पैदा होता है। इसके अलावा आप खड़े होकर अपने जांघों को स्ट्रेच कर सकते हैं। इससे दर्द में आपको राहत मिलेगी और नसें वापस अपनी सही जगह पर आ जाएंगी।

फ्रोजन मटर की सिंकाई

दर्द वाली जगह की सिंकाई के जरिये भी साइटिक के दर्द से राहत मिल सकती है। इसके लिए जमे हुए मटर को किसी तौलिये या मोटे कपड़े में लपेट लें और इसे दर्द वाली जगह और साइटिका नसों के आसपास 15 मिनट के लिए रख दें। नसों में सूजन को कम करने के लिए इसके तुरंत बाद उसी जगह की गर्म चीज से सिंकाई करें या गुनगुने पानी से स्नान कर लें। इससे नसों की सूजन ठीक हो जाएगी और दर्द में राहत मिलेगी।  

सेंधा नमक

शरीर के किसी भी हिस्से में सूजन को कम करने के लिए सेंधा नमक का प्रयोग पुराने समय से किया जाता रहा है। साइटिका के दर्द से राहत पाने के लिए आप गुनगुने पानी में सेंधा नमक मिलाकर इससे स्नान कर सकते हैं। इसके अलावा आप चाहें तो गर्म पानी में सेंधा नमक मिला लें और फिर उसमें तौलिये को भिगाकर उससे सिंकाई करें। इससे सूजन और दर्द दोनों में राहत मिलेगी।

तेल की मालिश

सरसों, तिल या जैतून के तेल में दो-तीन टुकड़े तेजपत्तों के और दो-तीन कली लहसुन डालकर इसे भून लें। अब इस तेल को दर्द वाली जगह पर और कमर पर गुनगुना ही मलें और नसों को दबाएं। इससे आपका दर्द ठीक हो जाएगा और सूजन भी खत्म हो जाएगी।

You May Also Like

English News