साढ़े तीन किलो कम निकली गैस, निरीक्षक बोला- ‘मैं क्या करूं’

सरकारी अफसरों और एजेंसियों की मिलीभगत से गैस सिलिंडरों में घटतौली का खेल चल रहा है। आशियाना में डिलीवरी देने पहुंचे हॉकर के सामने सिलिंडर की तौल कराई तो करीब साढ़े तीन किलो गैस कम निकली। बाकी के दो सिलिंडरों में भी गैस कम थी। उपभोक्ता ने आपूर्ति निरीक्षक को फोन किया तो बोले आज छुट्टी है मैं क्या करूं। तेलीबाग के सैनिक नगर निवासी अनिल सिंह के घर डिलीवरी मैन आज सुबह तेलीबाग स्थित इंडियन गैस एजेंसी ने सिलिंडर लेकर पहुंचा था। वजन कम लगने पर अनिल ने हॉकर से तौल करने को कहा तो टालमटोल करने लगा। उसने कांटा नहीं होने की बात कही। इस पर अनिल उसे अपने साथ पास के दुकान पर लगे इलेक्ट्रॉनिक कांटे पर लेकर गए। तौल करने पर सिलिंडर के वजन के अलावा 3.70 किलोग्राम गैस कम निकली। अनिल ने बाकी के दो सिलिंडरों की भी तौल करायी तो उनमें भी तीन-तीन किलोग्राम गैस कम निकली। गैस कम होने पर अनिल ने तत्काल गैस एजेंसी के मैनेजर विद्याधर दुबे से बात की उनका कहना था कि गलती से सिलिंडर पहुंच गया होगा। निरीक्षक बोले, मैं क्या करूं सरकारी अफसरों और एजेंसियों की मिलीभगत से गैस सिलिंडरों में घटतौली का खेल चल रहा है। आशियाना में डिलीवरी देने पहुंचे हॉकर के सामने सिलिंडर की तौल कराई तो करीब साढ़े तीन किलो गैस कम निकली। बाकी के दो सिलिंडरों में भी गैस कम थी। उपभोक्ता ने आपूर्ति निरीक्षक को फोन किया तो बोले आज छुट्टी है मैं क्या करूं। तेलीबाग के सैनिक नगर निवासी अनिल सिंह के घर डिलीवरी मैन आज सुबह तेलीबाग स्थित इंडियन गैस एजेंसी ने सिलिंडर लेकर पहुंचा था। वजन कम लगने पर अनिल ने हॉकर से तौल करने को कहा तो टालमटोल करने लगा। उसने कांटा नहीं होने की बात कही। इस पर अनिल उसे अपने साथ पास के दुकान पर लगे इलेक्ट्रॉनिक कांटे पर लेकर गए। तौल करने पर सिलिंडर के वजन के अलावा 3.70 किलोग्राम गैस कम निकली। अनिल ने बाकी के दो सिलिंडरों की भी तौल करायी तो उनमें भी तीन-तीन किलोग्राम गैस कम निकली। गैस कम होने पर अनिल ने तत्काल गैस एजेंसी के मैनेजर विद्याधर दुबे से बात की उनका कहना था कि गलती से सिलिंडर पहुंच गया होगा। निरीक्षक बोले, मैं क्या करूं :    अच्छी खबर: लखनऊ में सस्ता हुआ घरेलू गैस सिलिंडर यह भी पढ़ें उपभोक्ता अनिल कुमार ने इस बाबत जब आपूर्ति निरीक्षक विक्रम से शिकायत दर्ज करायी तो उनका कहना था कि आज अवकाश है इसलिए मैं क्या कर सकता हूं। मैं एजेंसी वालों से बात कर लूंगा। यह कहकर फोन काट दिया।  खाली हाथ जाते हैं हॉकर:  राजधानी की अधिकांश गैस एजेंसियों के हॉकर बिना इलेक्ट्रॉनिक कांटे के ही डिलीवरी के लिए जाते हैं। यही वजह है कि मौके पर जब उपभोक्ता गैस की तोल करने को कहता है तो बहाना बनाते हैं।   खबर का असर: डीएम के निर्देश पर नींद से जागा आपूर्ति विभाग, लालबाग गैस एजेंसी पर छापा यह भी पढ़ें पांच के खिलाफ एफआइआर फिर भी नहीं सुधार :  बीते तीन दिनों में राजधानी की पांच गैस एजेंसियों के खिलाफ घटतौली के मामलों में डीएम से रिपोर्ट दर्ज करने की संस्तुति की गई है इसके बावजूद घटतौली थमने का नाम नहीं ले रही है। डीएसओ आमिर खान का कहना है कि किसी को बख्शा नहीं जाएगा जहां पर भी कमी पाई जाएगी कार्रवाई होगी।

उपभोक्ता अनिल कुमार ने इस बाबत जब आपूर्ति निरीक्षक विक्रम से शिकायत दर्ज करायी तो उनका कहना था कि आज अवकाश है इसलिए मैं क्या कर सकता हूं। मैं एजेंसी वालों से बात कर लूंगा। यह कहकर फोन काट दिया।

खाली हाथ जाते हैं हॉकर:

राजधानी की अधिकांश गैस एजेंसियों के हॉकर बिना इलेक्ट्रॉनिक कांटे के ही डिलीवरी के लिए जाते हैं। यही वजह है कि मौके पर जब उपभोक्ता गैस की तोल करने को कहता है तो बहाना बनाते हैं।

पांच के खिलाफ एफआइआर फिर भी नहीं सुधार :

बीते तीन दिनों में राजधानी की पांच गैस एजेंसियों के खिलाफ घटतौली के मामलों में डीएम से रिपोर्ट दर्ज करने की संस्तुति की गई है इसके बावजूद घटतौली थमने का नाम नहीं ले रही है। डीएसओ आमिर खान का कहना है कि किसी को बख्शा नहीं जाएगा जहां पर भी कमी पाई जाएगी कार्रवाई होगी।

You May Also Like

English News