अभी-अभी: सामने आया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर ठगी का ये बड़ा जाल, पार्टी में मचा हाहाकार…

जानकारी पाकर उड़े पीएमओ के होश: प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की शिकायत मिलने के बाद सीबीआई ने अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। शिकायत में कहा गया है कि एक गिरोह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरु की गई नई ऋण योजनाओं का झूठा लालच देकर लोगों से ठगी कर रहा है। यह मामला तब सामने आया जब हिमाचल प्रदेश के सोलन के मूल निवासी ने पीएमओ में संपर्क किया। युवक ने बताया कि एक महिला ने खुद को ट्रस्ट फंड ऋण योजना का प्रोसेसिंग ऑफिसर बताकर उसके साथ धोखाधड़ी की।अभी-अभी: सामने आया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर ठगी का ये बड़ा जाल, पार्टी में मचा हाहाकार...यह भी पढ़े:> अभी अभी: पंखे से लटका मिला सबसे बड़े भारतीय क्रिकेटर का शव, खेल संग पूरे देश में मचा हड़कंप

शिकायतकर्ता ने अपनी शिकायत में संदेह जताया है कि चूंकि प्रधानमंत्री द्वारा दी जाने वाली ऋृण योजना और फर्जी ट्रस्ट द्वारा दी जाने वाली स्कीम लगभग-लगभग समान है। इसी का फायदा उठाकर गिरोह सीधे-साधे लोगों को अपनी ठगी का शिकार बना रहा है। इस जाल में काफी लोग फंस गए हैं। क्योंकि फर्जी ट्रस्ट का विज्ञापन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ऋृण योजना से काफी मेल खाती है।

‘द इंडियन एक्सप्रेस’ के मुताबिक, पीएमओ के उप सचिव मयूर माहेश्वरी से शिकायत मिलने के बाद सीबीआई ने अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है। माहेश्वरी ने कुछ महीने पहले सीबीआई के संयुक्त निदेशक को एक पत्र भेजा था, लेकिन मामला अब दर्ज किया गया। जांच अधिकारी प्रेम कुमार गौतम के साथ सीबीआई ने इस मामले की प्रारंभिक जांच की। मामले को आईपीसी की धारा 420 और 66-डी आईटी अधिनियम के तहत दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़े:> अभी-अभी: इस सबसे बड़े भारतीय क्रिकेटर ने अपनी पत्नी की गोली मारकर की हत्या, मिली फांसी की सजा…

माहेश्वरी ने ‘इंडियन एक्सप्रेस’ से बातचीत में कहा कि मनजीत सिंह नाम के एक युवक ने पीएमओ में शिकायत दी है। शिकायतकर्ता सोलन में बीजेपी का कार्यकर्ता है। उन्होंने बताया कि सिंह ने शिकायत में लिखा है कि उसे एक महिला द्वारा संदेश मिला कि पीएम मोदी ने हाल ही में ट्रस्ट फंड ऋण योजना की शुरूआत की है। इस योजना के तहत वे 1.5 करोड़ रुपये का ऋण ले सकते हैं। इसके बाद सिंह ने महिला संबंधित योजना के प्रोसेसिंग महिला अधिकारी से संपर्क किया।

You May Also Like

English News