#सावधान: भूल से भी ना खाएं पपीता, नहीं तो आपकी सेहत पर पड़ सकता है भारी

फलों को खाने से सेहत हमेशा दुरुस्त रहती है लेकिन क्या आपको पता है इन्हीं फलों में से एक फल ऐसा है जिसे ज्यादा खाना आपकी सेहत पर भारी पड़ सकता है और वो है पपीता। #सावधान: भूल से भी ना खाएं पपीता, नहीं तो आपकी सेहत पर पड़ सकता है भारीजानिए व्रत के दौरान प्याज और लहसुन न खाने की ये असली वजह

तो चलिए आपको बताते हैं कि आखिर पपीता को कब खाना चाहिए और कब नहीं।

गर्भपात होने का खतरा
अक्सर आपने लोगों से ये कहते सुना होगा कि पपीते को गर्भवती महिलाओं को नहीं खाना चाहिए। यहां तक की गर्भ धारण के समय पपीते का एक पीस भी उनका गर्भपात करा सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि पपीता गर्भाशय को संकुचित कर देता है। 

गले को कर सकता है प्रभावित
दिनभर में एक से ज्यादा कप पपीता खाने से बचना चाहिए क्योंकि ज्यादा पपीता खाने से आपका गला प्रभावित हो सकता है।

ब्रेस्टफीडिंग कराते हैं तो इसे खाने से बचें
गर्भावस्था के दौरान के अलावा डिलीवरी होने के कुछ समय बात तक भी पपीते का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि पपीते में Papain नाम का एक विषाक्त पदार्थ होता है जो छोटे बच्चे के लिए हानिकारक होता है इसलिए इसे नहीं खाना चाहिए।

हो सकती है एलर्जी
पपीते में लेटेक्स नाम का पदार्थ पाया जाता है इसलिए कुछ लोगों को इसे खाने से एलर्जी हो सकती है।

BP की दवा के साथ खाना खतरनाक
पपीता शुगर लेवल को कम करने में मददगार साबित होता है लेकिन अगर आप BP को नियंत्रित करने के लिए डॉक्टर की सलाह पर दवाई खा रहे हैं तो इसका सेवन खतरनाक हो सकता है।   

You May Also Like

English News