भू-गर्भ वैज्ञानिकों की चेतावनी, आने वाले 24 घंटे में 8.5 तीव्रता से आ सकता है भूकंप

आने वाले 24 घंटे उत्तराखंड के लिए घातक हो सकते हैं।  24 घंटे के भीतर 8.5 तीव्रता का भूकंप आ सकता है। यह मैसेज सोशल मीडिया पर बृहस्पतिवार रात को वायरल हो गया। इसके बाद से ही उत्तराखंड में भूकंप आने की अफवाह फैल गई।भू-गर्भ वैज्ञानिकों की चेतावनी, आने वाले 24 घंटे में 8.5 तीव्रता से आ सकता है भूकंपअभी-अभी: आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत की कार का हुआ एक्सीडेंट…!

वायरल हुए मैसेज में लिखा गया कि भू-गर्भ वैज्ञानिकों ने चेतावनी जारी की है कि 24 घंटे के भीतर 8.5 तीव्रता का भूकंप आ सकता है, जिसका केंद्र पिथौरागढ़ में होगा। वहीं, वैज्ञानिकों का कहना है कि यह मैसेज पूरी तरह फर्जी है।

अभी तक ऐसा कोई सिस्टम विकसित नहीं हुआ है कि भूकंप की चेतावनी जारी की जा सके। वाडिया हिमालय भू-विज्ञान संस्थान के भौतिकी समूह अध्यक्ष डॉ. सुशील कुमार ने भी इस मैसेज को पूरी तरह अफवाह बताया है।   

वायरल मैसेज में भूकंप से चमोली जिले में भारी नुकसान होने की आशंका भी जताई गई। लोगों का डर इसलिए भी बढ़ गया कि मैसेज में डीएम चमोली की ओर से सतर्कता बरतने के निर्देश देने की बात कही गई है।

कई लोगों ने इस मैसेज को शेयर किया। मैसेज पढ़ते ही दहशत में आए कई लोग आनन-फानन में अपने परिचितों को फोन कर सतर्क रहने की सलाह देने लगे। मैसेज की हकीकत जानने के लिए कुछ लोगों ने अखबारों के दफ्तरों में भी फोन किए।

वहीं वैज्ञानिकों ने इस तरह की अफवाह पर ध्यान देने की बात कही। बता दें कि भूकंप की चेतावनी अभी संभव नहीं है।  आईआईटी रुड़की की ओर से पहाड़ में अर्ली वॉर्निंग प्रोजेक्ट के तहत कुछ जगहों पर सेंसर जरूर लगाए गए हैं, लेकिन इससे भी कुछ सेकेंड पहले ही अलर्ट किए की बात कही जाती है, लेकिन अभी तक इस सिस्टम से कभी भूकंप का अलर्ट नहीं मिला है।

You May Also Like

English News