सावन के पहले सोमवार शिव के द्वार पहुंचे भक्त, हर-हर महादेव से गूंजे देवभूमि के मंदिर..

सावन के पहले सोमवार के दिन राजधानी देहरादून के मदिरों में ‌शिवभक्तों की टोली पहुंची। वहीं हरिद्वार के गंगा घाटों पर भक्तों ने आस्‍था की डुबकी लगाकर शिव का जलाभिषेक किया।सावन के पहले सोमवार शिव के द्वार पहुंचे भक्त, हर-हर महादेव से गूंजे देवभूमि के मंदिर..अमिताभ की हीरोइन सुमिता सान्याल का हुआ निधन
वहीं सावन के पहले सोमवार से कांवड़ यात्रा की शुरुआत हो गई। कांवड़ यात्रा के मद्देनजर हरिद्वार में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

कांवड़ यात्रा के चलते उत्तर प्रदेश, पंजाब, दिल्ली, हरियाणा आदि राज्यों से कांवड़ियों का हरिद्वार पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है।

सूर्य संक्रांति के अनुसार 16 जुलाई से श्रावण मास का आगमन 
दस जुलाई से श्रावण मास शुरू हो गया है। चंद्र तिथि के अनुसार दस और सूर्य संक्रांति के अनुसार 16 जुलाई से श्रावण मास का आगमन होगा। दस जुलाई को सोमवार होने की वजह से यह दिन शुभ माना जा रहा है।

वहीं शिवरात्रि का पर्व 21 जुलाई को मनाया जाएगा। इस बार सावन में यह खास है कि सावन सोमवार से ही शुरू हो रहे हैं।

सोमवार का दिन भगवान शिवजी की आराधना के लिए बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। इस दिन से श्रावण माह की शुरुआत बेहद शुभ मानी जा रही है। इस दिन भगवान शिव का अभिषेक पूजन विशेष महत्व देने वाला होता है।

You May Also Like

English News