सावन के हर मंगलवार होगा मंगलागौरी का दिन

सावन का पहला सोमवार आज रहा है यानी 30 जुलाई को और इस दिन सभी ने भगवान शिव की श्रद्धा भाव से पूजा की है और पूरे दिन शिवभक्त इनकी ही भक्ति में रमे रहेंगे. सोमवार का दिन सावन में बहु थी खास होता है. लेकिन जैसे सोमवार खास होता है वैसे ही मंगलवार भी खास होता है क्योकि मंगलवार को मंगलागौरी का व्रत किया जाता है. जी हाँ, जिस तरह सोमवार का दिन भगवान शिव का होता है उसी तरह मंगलवार माता पार्वती का होता है जिसे मंगलागौरी का होता है. सावन के हर मंगलवार होगा मंगलागौरी का दिन

आपको बता दें, मंगलागौरी का व्रत खास तौर पर सावन के मंगलवार को ही किया जाता है जिसमें इसका खास महत्व होता है. वैसे आम तौर पर मंगलवार को बजरंगबली की पूजा होती है लेकिन सावन में हनुमानजी के अलावा माता पार्वती का भी पूजन किया जाता है.  इस व्रत को उसी तरह किया जाता है जिस तरह महिलाएं बाकि व्रत को करती हैं. पति की लम्बी आयु के लिए खास इस व्रत को किया जाता है. जिन्हें संतान की प्राप्ति नहीं होती वो भी इस व्रत को करती हैं.

इसे करने की आसान विधि है –

सूर्य उदय से पहले उठकर स्नान करें और स्वच्छ वस्त्र धारण कर लें.

इस व्रत में आप एक ही समय अन्न ग्रहण कर सकते हैं.

पूजन के लिए एक लकड़ी के पटिये पर लाल कपडा बिछा दें और उस पर माँ पार्वती और शिवजी की तस्वीर स्थापित करें. इसके बाद उनकी पूजा करें और व्रत का संकल्प लें.

संकल्प लेते समय आप ‘मम पुत्रापौत्रासौभाग्यवृद्धये श्रीमंगलागौरीप्रीत्यर्थं पंचवर्षपर्यन्तं मंगलागौरीव्रतमहं करिष्ये’ का उच्चारण कर सकते हैं.

प्रतिमा या फोटो के सामने आटे से बनाया हुआ दीपक लगाएं जो घी का हो और उसमें 16 बत्तियां लगायें.

You May Also Like

English News