सास के निधन होने पर वाराणसी पहुंचे केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह अपनी सास समुंद्री देवी को अंतिम विदाई देने वाराणसी के महाश्मशान मणिकर्णिका घाट पहुंचे. इस दौरान उन्होंने महाश्मशान मणिकर्णिका घाट पर एक घंटें से ज्यादा वक्त गुजारा. शवयात्रा में राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह और नीरज सिंह ने अपनी नानी को कंधा भी दिया. हालांकि, राजनाथ सिंह शवयात्रा में शरीक नहीं हुए, लेकिन मणिकर्णिका घाट पहुंचते ही सबसे पहले उन्होंने शवदाह स्थल पहुंचकर अपनी सास समुंद्री देवी के पार्थिव शरीर के दर्शन किए.सास के निधन होने पर वाराणसी पहुंचे केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह

मिर्जापुर से सीधे वाराणसी पहुंचे राजनाथ सिंह
अपनी सास के पार्थिव शरीर का दर्शन के बाद वे शवयात्रियों के लिए बने विश्राम स्थल पर तब तक वक्त बिताया जब तक उनकी सास को मुखाग्नि नहीं दे दी गई. राजनाथ सिंह की सास समुंद्री देवी को मुखाग्नि समुंद्री देवी के बेटे अशोक सिंह ने दिया. इस दौरान देर रात से पूरा सरकारी अमला तैयारियों में जुट गया था. गौरतलब, है कि राजनाथ सिंह रविवार को मिर्जापुर स्थित विंध्याचल धाम गए थें. जब उन्हें उनकी सास के निधन का पता चला तो वे वहां से सीधे वाराणसी आ गए. उन्होंने रविवार रात वाराणसी में गुजारी.

रविवार को हुआ सास का निधन
राजनाथ सिंह की सास समुंद्री देवी का रविवार दोपहर करीब सवा दो बजे निधन हो गया था. मोदीनगर के बाल वाटिका स्थित आवास पर उन्होंने अंतिम सांस ली वह करीब 93 वर्ष की थीं. मूल रूप से वे गढ़वा के रमना प्रखंड की रहने वाली थीं.

 

You May Also Like

English News