सिंगापुर से लौट लखनऊ में कर रहा था लूट, पुलिस ने किया गिरफ्तार!

लखनऊ: सिंगापुर से नौकरी कर लौटा एक युवक अपने साथी के साथ शहर भर में लोगों से मोबाइल फोन लूट की वारदात को अंजाम दे रहा था। ठाकुरगंज पुलिस ने दोनों लुटेरों को गिरफ्तार कर किया है। पुलिस ने उनके पास से लूटे गये 15 मोबाइल फोन, तमंचा, एक हाईस्पीड बाइक और एक स्कूटी बरामद की है। बरामद की गयी बाइक लूट की रकम से खरीदी गयी थी।


सीओ चौक दुर्गा प्रसाद ने बताया कि मोबाइल फोन लूट की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए ठाकुरगंज पुलिस की टीम को बदमाशों की धर-पकड़ के लिए लगाया गया था। सर्विलांस और मुखबिर की मदद से पुलिस दो लुटेरों के बारे में पता चला। गुरुवार की सुबह ठाकुरगंज पुलिस ने मेहंदी घाट के पास दो लुटेरों को पकड़ा।

पुलिस ने उनके पास से लूटे गये 15 मोबाइल फोन, तमंचा, एक केटीएम बाइक और एक स्कूटी बरामद की। पूछताछ की गयी तो पकड़े गये लुटेरों ने अपना नाम ठाकुरगंज मल्लाहीटोला निवासी शिवम और ठाकुरगंज दौलतगंज निवासी शाबाज बताया। अब पुलिस बरामद मोबाइल फोन के आईएमईआई नम्बर की मदद से उनके मालिकों के बारे में पता लगा रही है। पुलिस का कहना है कि आरोपियों के पास से मिली केटीएम बाइक लूट के रुपये से खरीदी गयी है।

ढाई माह पहले ही सिंगापुर से लौटा है शिवम
सीओ चौक दुर्गा प्रसाद ने बताया कि पकड़ा गया लुटेरा शिवम सिंगापुर मेें पानी के जहाज में साफ-सफाई का काम करता था। करीब ढाई माह पहले ही वह सिंगापुर से लौटा था। वहीं पकड़ा गया आरोपी शाबाज पेशे से बढ़ई है। वह पहले भी चोरी के मामले में सआदतगंज से जेल जा चुका है।

रोज कहीं न कहीं वारदात को देते थे अंजाम
इंस्पेक्टर ठाकुरगंज दीपक दूबे ने बताया कि पकड़े गये दोनों लुटेरे बेहद शातिर हैं। यह लोग रोज शहर के किसी न किसी इलाके में मोबाइल लूट की वारदात को अंजाम देते थे। आरोपियों ने अब तक 25 लूट की वारदात को अंजाम देने की बात कुबूली है। आरोपियों ने बताया कि वह लोग लूटे गये मोबाइल फोन अपने ही जानने वालों को सस्ते दामों में बेच दिया करता था। लूटे गये मोबाइल फोन बेचकर मिले रुपये से दोनों आरोपी मौज-मस्ती करते थे।

You May Also Like

English News