सिंघवी तृणमूल के पक्ष में, बंगाल कांग्रेस विरोध में, राहुल के दफ्तर में पहुंचा विवाद

पश्चिम बंगाल के कांग्रेस अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी अपनी पार्टी के सांसद अभिषेक मनु सिंघवी से खासे नाराज़ हैं.  वह अपनी नाराजगी को लेकर कांग्रेस आलाकमान से शिकायत करेंगे.  चौधरी की ताजा नाराजगी का मुद्दा पंचायत चुनाव को लेकर है.सिंघवी तृणमूल के पक्ष में, बंगाल कांग्रेस विरोध में, राहुल के दफ्तर में पहुंचा विवाद

क्यों नाराज हैं अधीर रंजन चौधरी

अधीर रंजन चौधर ने गुरुवार को तृणमूल कांग्रेस के ख़िलाफ़ कोलकाता हाई कोर्ट में याचिका दाख़िल की थी. याचिका में कहा गया है कि टीएमसी के लोग विपक्षियों को पंचायत चुनाव में पर्चा दाख़िल करने से रोक रहे हैं.

वकीलों की हड़ताल की वजह से अधीर रंजन ने हाई कोर्ट में डेढ़ घंटे ख़ुद जिरह की, लेकिन वहीं इसी मुद्दे पर बीजेपी ने सुप्रीम कोर्ट में टीएमसी के ख़िलाफ़ याचिका दायर की है तो कांग्रेस सांसद अभिषेक मनु सिंघवी ने टीएमसी के पक्ष में पैरवी की. इसी बात पर चौधरी सिंघवी से नाराज हैं.

इसीलिए बंगाल कांग्रेस सिंघवी से नाराज़ है. बता दें कि सिंघवी तृणमूल की मदद से सांसद बने हैं. अधीर रंजन चौधरी ने ‘आजतक’ से कहा, मैं शर्मिंदा महसूस कर रहा हूं, मैंने राहुल गांधी से शिकायत की है, मेरे विधायकों ने ऐसे आदमी को सांसद पद के लिए समर्थन दिया जो हमारे खिलाफ काम करे, मैं दुखी हूं. 

पहले भी लगा चुके हैं आरोप

बता दें कि पिछले साल मई में बंगाल में निकाय चुनाव के दौरान हिंसा के बीच मतदान संपन्न हुआ था. चुनाव में कम से कम चार जगहों पर चुनावी हिंसा के चलते कांग्रेस कार्यकर्ता घायल हुए थे. अघोषित तौर पर गठबंधन के तहत चुनाव लड़ रही कांग्रेस और वाम मोर्चा ने राज्य निर्वाचन आयोग कार्यालय के बाहर जमकर विरोध-प्रदर्शन किया था. सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पर ‘बड़े पैमाने पर वोट लूटने’ का आरोप लगाते हुए सड़क जाम कर दिया था. कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी ने डोमकल के अपने सभी पार्टी प्रत्याशियों से चुनाव से नाम वापस लेने के लिए कहा था और चुनाव को मजाक करार दिया था.

You May Also Like

English News