सीएम आद‌ित्यनाथ ने कहा: पहले की सरकारें भेदभाव करती थीं, अब सबको 24 घंटे देंगे ब‌‌िजली…

लखनऊ के इंदिरागांधी प्रतिष्ठान में आयोज‌ित ऊर्जा व‌िभाग के कार्यक्रम में सीएम योगी आद‌ित्यनाथ ने कई योजनाओं का लोकार्पण क‌िया। इस कार्यक्रम में ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा भी मौजूद रहे। सीएम ने इस दौरान बताया क‌ि 100 द‌िनों में उनकी सरकार ने इस व‌िभाग में क्या-क्या काम क‌िए। सीएम योगी ने कहा, 100 द‌िन में हमारी सरकार ने ज‌ितने काम क‌िए उतने 10 साल में भी नहीं हुए।सीएम आद‌ित्यनाथ ने कहा: पहले की सरकारें भेदभाव करती थीं, अब सबको 24 घंटे देंगे ब‌‌िजली...GST: लागू होने के रूप में 70 साल बाद संसद में फिर सजेगी सितारों की महफिल..

सीएम ने कहा, पहले की सरकारें जनता से भेदभाव करती थीं। केवल 5 ज‌िलों में 24 घंटे ब‌िजली दी जा रही थी। हम जात‌ि-धर्म और गोरे-काले का भेदभाव नहीं करेंगे। सरकार कोई अहसान नहीं कर रही। ये जनता का अध‌िकार है उसे म‌िलना चाह‌िए। सरकार एक समान रूप से ब‌िजली देने का काम कर रही है। सीएम ने कहा क‌ि हम 24 घंटे ब‌िजली देंगे। इस दौरान योगी ने शहरी बीपीएल को मुफ्त बिजली कनेक्शन देने सह‌ित, ई निवारण ऐप का शुभारंभ और 10 नए सब स्टेशन का लोकार्पण भी क‌िया।

सीएम ने कहा, केंद्र सरकार विद्युतीकरण की कई योजानाएं लाई, नए विद्युत सब स्टेशन बनने पर भी योजनाएं बनीं। पिछली सरकारों ने जो बिजली एग्रीमेंट किये उससे जनता पर 5 हज़ार
करोड़ का बोझ पड़ता। हमने ऐसे बेकार एग्रीमेंट रद्द किए। 

मुख्यमंत्री ने कहा, 100 दिनों में हमारी सरकार ने साढ़े 18 हज़ार घरों में बिजली पहुंचा दी है।

कार्यक्रम में सीएम और ऊर्जा मंत्री

ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा, हम बीपीएल परिवारों को बिजेली कनेक्शन देने जा रहे है लेकिन उन सबको बिजली का बिल देना होगा। हमारा संकल्प है कि प्रदेश में कोई भी व्यक्ति अंधेरे में न रहे। जर्जर व्यवस्था को ठीक किया जा रहा है।

जितनी भी अनियमितता है उसको दूर किया जा रहा है। मुख्यमंत्री जी का आदेश था कि गांव में पूरी बिजली मिले हमने 100 दिन में ही 8000 ट्रांसफार्मर अपग्रेड करके दिखाया। 

2 साल के अंडर ऊर्जा विभाग हर घर को रौशन करने के साथ साथ सबसे अच्छा विभाग खुद को साबित करके दिखाएगा। बिजली चोरी को लेकर हमे गुजरात से कुछ चीजें सीखनी होगी क्योंकि वहा बिजली चोरी को लेकर कड़े कानून है।

योगी जी के डिजिटल इंडिया के सपने को साकार करने के लिए हमने उपभोगताओं को डेबिट और क्रेडिट कार्ड के जरिये बिजली बिल भुगतान की व्यवस्था की। जिसका अतिरिक्त भार ऊर्जा विभाग ही उठाएगा। 

जितने भी सरकारी दफ्तर में वहा मीटर लगाकर बिजली बिल भुगतान की व्यवस्था करेंगे। 5 लाख 68000 लोगों को हमने कनेक्शन दिया।

You May Also Like

English News